विराट कोहली की प्रशंसा करते हुए आलोचना करने वालों पर बरसे डेविड वॉर्नर

भारतीय टेस्ट कप्तान विराट कोहली का क्रिकेट करियर इस समय काफी बदलाव से गुजर रहा है। टी20 वर्ल्ड कप के बाद उन्होंने टी20 कप्तानी छोड़ने का फैसला किया था। हालांकि उसके बाद बीसीसीआई ने उन्हें वनडे की कप्तानी से भी हटाने का निर्णय किया। विराट कोहली के नेतृत्व में भारतीय टीम कोई भी आईसीसी इवेंट नहीं जीत सकी, जिसका खामियाजा उन्हें कप्तानी गंवाकर चुकानी पड़ी है। बतौर बल्लेबाज विराट कोहली का फॉर्म भी टीम के लिए चिंता का विषय रहा है। वह पिछले दो साल में कोई शतक नहीं लगा सके हैं। जिसके कारण वह आलोचकों के निशाने पर हैं। हालांकि ऑस्ट्रेलिया के सलामी बल्लेबाज डेविड वॉर्नर ने भारतीय कप्तान की प्रशंसा करते हुए आलोचकों से अनुरोध किया है कि वह उनकी स्थिति को समझें।

डेविड वॉर्नर ने बोरिया मंजूमदार से एक शो में बातचीत के दौरान कहा, ''कई लोग विराट कोहली की फॉर्म को लेकर काफी साल से बात कर रहे हैं। हम एक महामारी से गुजरे हैं। उसको एक बच्ची हुई है। हमे सिर्फ देखना चाहिए कि उसने कितना अच्छा किया है। आपको फेल होने के अनुमति है। जब आप अपने काम में इतने अच्छे होते हैं तो आपने असफल होने का अधिकार कमाया है। लोग कहते हैं कि स्टीव स्मिथ अपनी चौथी पारी में शतक नहीं बनाते। क्योंकि आंकड़े कहते हैं कि वह हर चार पारियों में एक शतक बनाते हैं। वह भी हम सबके जैसा ही है। इसलिए उन लोगों पर काफी ज्यादा दबाव होता है। लेकिन दबाव महसूस नहीं करेंगे, मैं गारंटी देता हूं।

विराट कोहली इस समय साउथ अफ्रीका के खिलाफ तीन मैचों की टेस्ट सीरीज का हिस्सा हैं। डीन एल्गर के नेतृत्व वाली दक्षिण अफ्रीका की टीम ने दूसरा टेस्ट मैच 7 विकेट से जीतकर सीरीज 1-1 से बराबर कर ली है। पहला टेस्ट मैच भारतीय टीम ने 113 रन से जीता था। विराट कोहली दूसरे टेस्ट मैच में पीट में जकड़न के चलते इस मैच में नहीं खेल सके, जहां टीम इंडिया को सात विकेट से हार का सामना करना पड़ा। विराट की जगह केएल राहुल ने जोहानिसबर्ग टेस्ट में अगुवाई की थी। विराट कोहली के 11 जनवरी से केपटाउन में शुरू हो रहे तीसरे मैच में वापसी की उम्मीद है। डेविड वॉर्नर की बात करे तो वह इस समय एशेज सीरीज का हिस्सा हैं। जहां पर पैट कमिंस के नेतृत्व वाली ऑस्ट्रेलिया ने पांच मैचों की टेस्ट सीरीज में 3-0 की बढ़त हासिल कर ली है।