औगासी में पांटून पुल चालू, लोनिवि मंत्री के दावे हवा-हवाई

बांदा। एक दशक से बन रहे औगासी पुल से अभी तक वाहन नही दौड़ सके। चार माह बिलम्ब से पांटून पुल चालू होने से बांदा-फतेहपुर जनपद के लोगो ने राहत की सांस ली है। औगासी के यमुना नदी पर करीब एक दशक से पुल का निमार्ण चल रहा है। प्रदेश सरकार ने 65 करोड़ रुपये भी आवंटित हो चुके हैं। इतना ही नही प्रदेश सरकार के पीडब्ल्यूडी विभाग के राज्यमंत्री चंद्रिका प्रसाद उपाध्याय ने कई बार दौरा करके कहा था कि जनवरी के प्रथम सप्ताह में पुल से वाहन फर्राटा भर सकेंगे।लेकिन समय गुजर गया और पुल का निर्माण अभी भी अधूरा पड़ा है। इसके चलते पांटून (पीपे ) का पुल भी नहीं चालू हो पाया था। जिससे लोगों को आने जाने में भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ता था। लेकिन पुल के चालू होने पर विलंब के चलते शासन व प्रशासन ने देरी को देखते हुए पीपे का पुल का निर्माण करा दिया। रविवार से पांटून(पीपे) से वाहनों का आवागमन शुरू हो गया जिससे फतेहपुर व बांदा जनपद के साथ-साथ मध्य प्रदेश के लोगों का भी आना जाना शुरू हो गया है। राजधानी लखनऊ तक पहुंचने का रास्ता भी सस्ता हुआ शुगम हो गया है।