पाक के ऑलराउंडर मोहम्मद हफीज ने इंटरनेशनल क्रिकेट से लिया संन्यास

साल 2022 के शुरुआत में पाकिस्तान के क्रिकेट फैंस को बड़ा झटका लगा है। दरअसल, टीम के दिग्गज ऑलराउंडर मोहम्मद हफीज ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेने का फैसला किया है। 41 वर्षीय मोहम्मद हफीज दाएं हाथ के बल्लेबाज और गेंदबाज हैं। पाकिस्तान के सबसे लंबे समय तक सेवा देने वाले क्रिकेटरों में से एक हफीज ने 2018 में अपने टेस्ट करियर से अपने क्रिकेट करियर की शुरुआत की थी।

पाकिस्तान के सबसे सफल खिलाड़ियों में से एक हफीज का आखिरी टूर्नामेंट 2021 में आयोजित हुए टी020 वर्ल्ड कप था। इसमें सेमीफाइनल में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मुकाबले में वे आखिरी बार उतरे थे। बताते चलें कि 2018 में ही हफीज ने टेस्ट क्रिकेट से संन्यास ले लिया था।  उन्होंने अपना आखिरी टेस्ट मैच अबु धाबी में न्यूजीलैंड के खिलाफ खेला था।

टेस्ट क्रिकेट की बात करें, तो हफीज ने पाकिस्तान टीम के लिए 55 मैच खेले हैं और 10 शतकों की मदद से 3652 रन बनाने बनाए हैं। इसके अलावा हफीज ने इंटरनेशनल टेस्ट में 53 विकेट भी लिए हैं। उन्होंने अपना डेब्यू टेस्ट मैच बांग्लादेश के खिलाफ 2003 में खेला था।  वनडे करियर पर नजर डालें, तो मोहम्मद हफीज ने 218 वनडे में 11 शतकों की मदद से 6614 रन बनाए और 139 विकेट भी चकटाए हैं। हफीज ने डेब्यू वनडे जिम्बाब्वे के खिलाफ 2003 में खेलकर इंटरनेशनल क्रिकेट की शुरुआत की थी। 

इसके अलावा हफीज ने 119 टी- 20 मुकाबलों में उन्होंने 2514 रन बनाए और 61 विकेट लिए हैं। उन्होंने अगस्त 2006 में इंग्लैंड के खिलाफ टी-20 डेब्यू मैच खेला था।  बता दें कि अपने करियर के दौरान उन्होंने 32 मैन ऑफ द मैच पुरस्कार जीते थे, जो सभी प्रारूपों में पाकिस्तान के खिलाड़ियों में चौथा सबसे बड़ा था। शाहिद अफरीदी (43), वसीम अकरम (39) और इंजमाम-उल-हक (33) उनसे ऊपर हैं।