यूपी पुलिस लिखित परीक्षा का रिजल्ट जारी, बदला पीटीईटी का शेड्यूल

उत्तर प्रदेश पुलिस भर्ती एवं प्रोन्नति बोर्ड, लखनऊ (UPPRPB) की ओर से उत्तर प्रदेश पुलिस मोटर परिवहन शाखा में मुख्य आरक्षी मोटर परिवहन के 32 रिक्त पदों पर विभागीय परीक्षा के आधार पर चयन के संबंध में लिखित परीक्षा में सम्मिलित अभ्यर्थियों का परीक्षा परिणाम जारी कर दिया गया है। प्रथम चरण की परीक्षा उत्तीर्ण कर चुके उम्मीदवारों को अब पीटीईटी में भाग लेना होगा। पीटीईटी पहले 15, 22 और 24 जनवरी को तीन चरणों में आयोजित की जाने वाली थी, लेकिन इसे स्थगित करते हुए अब क्रमश: 24, 25 और 27 जनवरी, 2022 को आयोजित किया जाएगा। इसकी अधिूसचना और अपने लिए पीटीईटी का शेड्यूल देखने के लिए यहां क्लिक कर सकते हैं। वहीं, अधिक जानकारी के लिए वेबसाइट  uppbpb.gov.in पर विजिट कर सकते हैं। 

उत्तर प्रदेश पुलिस भर्ती एवं प्रोन्नति बोर्ड, लखनऊ (UPPRPB) द्वारा जारी रिजल्ट अधिसूचना में कहा गया है कि उत्तर प्रदेश पुलिस मोटर परिवहन शाखा अधीनस्थ अधिकारी सेवा नियमावली, 2015 में दिए गए प्रावधानानुसार मुख्य आरक्षी मोटर परिवहन के भर्ती/चयन वर्ष-2019 (दिनांक 01-07-2019 से 30-06-2020 तक) की कुल 32 रिक्तियों के सापेक्ष विभागीय परीक्षा के आधार पर चयन के संबंध में प्रथम चरण की लिखित परीक्षा में सम्मिलित/अर्ह अभ्यर्थियों की संगत सेवा नियमावली में दिए गए प्रावधानानुसार अगले चरण की ‘प्रयोगात्मक तकनीकी दक्षता परीक्षण (PTET) दिनांक 13-01-2022 से एसडीआरएफ, लखनऊ में प्रारंभ किए जाने के संबंध में तथा अर्ह अभ्यर्थियों को उनके प्रवेश पत्र बोर्ड की वेबसाइट http://uppbpb.gov.in/ पर दिए गए लिंक से डाउनलोड किए जाने के संबंध में बोर्ड की समांक सूचना विज्ञप्ति दिनांकित 31-12-2021 के माध्यम से सूचित किया गया था।

 पूर्व तिथियों हेतु निर्गत प्रवेश पत्र ही मान्य होंगे

उक्त कम में अवगत कराना है कि अपरिहार्य कारणों से प्रयोगात्मक तकनीकी दक्षता परीक्षण (PTET) हेतु दिनांक 15-01-2022, 22-01-2022 एवं 24-01-2022 की तिथियों में आवंटित अभ्यर्थियों को अब क्रमशः दिनांक 24-01-2022, 25-01-2022 एवं 27-01-2022 की नई तिथियों आवंटित की गईं हैं। यह भी उल्लेखनीय है कि इन नई निर्धारित तिथियों के लिए पूर्व तिथियों हेतु निर्गत प्रवेश पत्र ही मान्य होंगे। अभ्यर्थियों की सूची अवलोकनार्थ संलग्न है।

 तकनीकी त्रुटि के लिए बोर्ड उत्तरदायी नहीं

यद्यपि उक्त सूचना बोर्ड की वेबसाइट पर अपलोड किए जाने में पर्याप्त सावधानी बरती गई है। फिर भी किसी प्रकार की तकनीकी त्रुटि के लिए बोर्ड उत्तरदायी नहीं होगा और न ही त्रुटि पाए जाने पर त्रुटिपूर्ण अंकन का किसी को किसी प्रकार का लाभ या अधिकार प्राप्त होगा/ अनुमन्य होगा। यह सूचना सर्वसाधारण के लिए है। अतः जो सूचनाएं इस सूचना/विज्ञप्ति के माध्यम से उपलब्ध कराई जा रही है। उनके संबंध में सूचना का अधिकार अधिनियम-2005 के अंतर्गत अथवा अन्य माध्यमों से पृथक से कोई प्रार्थना पत्र स्वीकार नहीं किए जाएंगे और न ही उन पर बोर्ड द्वारा कोई विचार किया जाएगा।