अब बीजेपी हुकूमत बताये नोटबंदी के बाद दीवारों से कैसे निकल रही रूपयों की गडिडयां-प्रमोद तिवारी

सीडब्ल्यूसी मेंबर ने यूरिया तथा डीएपी कालाबाजारी मे नियंत्रण व गरीब किसानों का धान खरीदने मे भी सरकार पर लगाया असफलता का आरोप

क्षेत्रीय विधायक आराधना मिश्रा मोना द्वारा स्वीकृत करायी गई पेयजल परियोजनाओं के भूमिपूजन से क्षेत्र मे दिखा भारी उत्साह

लालगंज, प्रतापगढ़।  केन्द्रीय कांग्रेस वर्किग कमेटी के सदस्य प्रमोद तिवारी ने प्रदेश मे दीवारों से रूपयो की गडिडयों की बरामदगी पर सरकार को सवालिया घेरे मे खडा करते हुए कहा कि विकास के नाम पर जनता की गाढ़ी कमाई की लूट का सच सामने आने लगा है। उन्होने सूबे की भाजपा सरकार से सवाल पूछा है कि वह अब वह बताये कि आखिर यह रूपये सरकारी नियंत्रण से बाहर कहां से और कैसे निकल रहे हैं। बुधवार को सांगीपुर क्षेत्र मे विभिन्न जनसभाओं को संबोधित करते हुए प्रमोद तिवारी ने किये गये तगड़े सियासी प्रहार मे कहा कि आरोप प्रत्यारोप की जगह भाजपा की जिम्मेदारी बनती है कि वह देश की जनता को बताये कि नोटबंदी के बाद पूंजीपतियो की तिजोरी से काली कमाई के सच के पीछे वह कहां तक संलिप्तता से बचने का किस हद तक का हथकण्डा अपना रही है। डभियार मे आयोजित एक बड़ी जनसभा को संबोधित करते हुए सीडब्ल्यूसी मेंबर प्रमोद तिवारी ने कहा कि प्रदेश की मौजूदा सरकार पहले सरकारी रेट पर गरीब किसानो का धान नही खरीद सकी। कांग्रेस नेता ने कहा कि अब सरकार की अक्षमता यूरिया तथा डीएपी की दोगुने दाम पर हो रही सरेबाजार काला बाजारी से उजागर हो रही है। उन्होने कहा कि सरकारी केन्द्रों पर किसान यूरिया और डीएपी के लिए सर्द मौसम मे दिन रात लाइन लगाये परेशान नजर आ रहा है। वहीं प्रमोद तिवारी ने रामपुर खास के विकास के लक्ष्य का खाका खींचते हुए यहां विधायक मोना के प्रयास से प्रगति को तेजी के मुकाम की ओर संचालित होना बताया। श्री तिवारी ने कहा कि विपक्ष के पास रामपुरखास के विकास का कोई विजन नही है। उल्टे सत्ता से जुडे कुछ मुटठीभर नासमझ विरोधी रामपुरखास के विकास मे उनके और मोना के द्वारा खींची जा रही हर बड़ी लाइन को पूरा न होने देने के लिए ही अड़गेबाजी मे जुटे नजर आया करते है। प्रमोद तिवारी ने कहा कि चुनाव के समय प्रदेश मे अब विकास की बात नही हो रही है। इसके विपरीत सत्ता मे बैठे धार्मिक भेदभाव की भावना को कैस करने का ही रोज कुचक्र रचने मे जनता का ध्यान बरगला रहे हैं। उन्होनें कहा कि भाजपा की मोदी सरकार मे किसानो और नौजवानो के साथ लगातार छलावा की कीमत विधानसभा चुनाव मे जनता सरकार के खिलाफ अपने जनादेश के बूते देगी। उन्होने कहा कि प्रदेश मे महिलाओं और बच्चियों के साथ रोज निर्ममता की घटनाओं की बाढ़ आ गयी है। प्रमोद तिवारी ने पडोसी जिले अमेठी मे एक दलित बच्ची निर्ममता से पिटाई को मानवता को शर्मसार करने वाली घटना ठहराते हुए दोषियो को कठोरतम सजा दिये जाने की मांग की। जनसभा की अध्यक्षता करते हुए जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष डा. लालजी त्रिपाठी ने कांग्रेस की प्रतिज्ञा यात्रा से लोगों को अवगत कराया। वहीं शहर अध्यक्ष इरफान अली, पूर्व जिलाध्यक्ष नरसिंह प्रकाश मिश्र तथा डा. वीके सिंह ने अपने भाषण मे किसानो की समस्याओं पर सरकारी असफलता के आरोप मढे। क्षेत्रीय दौरे पर आये प्रमोद तिवारी ने डभियार पूरे मुरली पेयजल योजना का भी समारोहपूर्वक भूमिपूजन किया। संचालन घुइसरनाथ व्यापार मण्डल अध्यक्ष व अधिवक्ता अखिलेश मिश्र ने किया। जनसभा मे ग्रामीणों ने प्रमोद तिवारी को लोकमंगल सम्मान से प्रतीक चिन्ह देकर सम्मानित भी किया। इसी सिलसिले मे सीडब्ल्यूसी मेंबर प्रमोद ने सांगीपुर अठेहा क्षेत्र के गोपालपुर पेयजल योजना के तहत भी लोगों को करोड़ो की सौगात सौंपी। जनसभाओं को ब्लाक प्रमुख अशोक सिंह बब्लू व चेयरपर्सन प्रतिनिधि संतोष द्विवेदी व जिला पंचायत सदस्य अरविंद सिंह एवं रघुनाथ सरोज ने भी संबोधित किया। इस मौके पर संयुक्त अधिवक्ता संघ के उपाध्यक्ष संतोष पाण्डेय, संजय पाण्डेय, दिनेश मिश्र, बृजबहादुर सरोज, बबलू वर्मा, आशुतोष मिश्र, धर्मेन्द्र मिश्र, रामशिरोमणि पाण्डेय, विपिन पाण्डेय, अंशुमान तिवारी, संजय वर्मा, राकेश यादव, रामबोध शुक्ल, सिंटू मिश्र, भगवती प्रसाद तिवारी, ज्ञानप्रकाश शुक्ल, आशीष उपाध्याय, जान्हवी प्रसाद सिंह, छोटे लाल सरोज, प्रमोद तिवारी, पवन शुक्ल, रामकृपाल पासी, आनंद प्रकाश त्रिपाठी, आदि रहे। इसके बाद प्रमोद तिवारी क्षेत्र के भगौरा, बसुआपुर, मे भी विविध कार्यक्रमों मे शामिल हुए दिखे।