किसान जागरूकता गोष्ठी का आयोजन

तिंदवारी(बाँदा)। प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत मुंगुस गांव में  किसान-जागरूकता-गोष्ठी का आयोजन किया गया। किसान गोष्ठी का शुभारंभ किसान रामचन्द्र सिंह ने फीता काटकर किया। फसल बीमा के जिला प्रबंधक अजीत कुमार शर्मा ने किसान गोष्ठी में फसल बीमा योजना की जानकारी देते हुए फ़सलों के बीमा कराने पर प्राकृतिक आपदाओं से फ़सलों को होने वाले नुकसान से मिलने वाले लाभों को विस्तार से बताया। फ़सलों के बीमा की अंतिम तिथि 31 दिसम्बर है, इस तिथि तक किसान अपना आधार कार्ड, बैंक पास बुक व खतौनी लेकर नजदीकी जन सेवा केंद्र व बैंक या स्वयं मोबाइल से पीएमएफबीवाई पोर्टल के माध्यम से भी कर सकते हैं।

उपजिला प्रबंधक रामप्रकाश सिंह ने बताया कि ऋणी किसानों के फसलों का बीमा बैंक से स्वतः हो जायेगा उनका प्रीमियम खाते से काट लिया जायेगा। लेकिन यदि ऋणी किसानों को बीमा नही करवाना है और प्रीमियम कटने से रोकना है तो अंतिम  तिथि 31 दिसम्बर के 7 दिन पहले बैंक में लिखित सूचना देनी होगी। उन्होंने किसानों को आश्वस्त किया कि बीमा के बाद यदि किसानों के फसलों का नुकसान होता है तो उनको मुआवजा जरूर मिलेगा। किसान अपने नुकसान की सूचना 72 घण्टे के अंदर 18008896868 पर जरूर दे दें। कस्बे समेत मुंगुस, मिरगहनी, गजनी गोखरही, महुई, तेरहीमाफी, गरौती  आदि गांवों के किसान शामिल रहे।इस दौरान फसल बीमा के जिला प्रबंधक अजीत कुमार शर्मा, उपजिला प्रबंधक रामप्रकाश सिंह के अलावा कृषि विभाग के सुभाष चन्द्र, राजेश गुप्ता, ब्रजमोहन, विनोद कुमार आदि शामिल रहे।