लिफ्ट देकर लूटपाट करने वाले पांच बदमाश मुठभेड़ में गिरफ्तार

नोएडा। एक्सप्रेस वे थाना पुलिस ने सोमवार देर रात सूचना के आधार पर जेपी अस्पताल पुस्ता कट के पास मुठभेड़ के बाद स्विफ्ट कार सवार पांच लुटेरों को गिरफ्तार कर लिया। इस दौरान पुलिस की गोली लगने से एक लुटेरा घायल हो गया। पकड़े गए आरोपी कार में सवारियों को लिफ्ट देकर उनके साथ लूटपाट करते थे। नोएडा जोन के एडीसीपी रणविजय सिंह ने बताया कि एक्सप्रेस वे थाना पुलिस टीम ने सोमवार देर रात एक सूचना के आधार पर जेपी अस्पताल पुस्ता कट के पास चेकिंग शुरू की। इस दौरान पुलिस टीम ने बिना नंबर की एक स्विफ्ट डिजायर कार को रोकने का प्रयास किया तो कार सवार बदमाश ने पुलिस पर फायरिंग कर दी। पुलिस की ओर से की गई जवाबी कार्रवाई में गोली लगने से एक बदमाश माचवा थाना हरदुआगंज अलीगढ़ निवासी दीपक घायल हो गया, जिसे पुलिस ने अस्पताल में भर्ती कराया। इस दौरान बाकी चार बदमाश मौके से भागने का प्रयास करने लगे, मगर पुलिस टीम ने पीछा कर हरदुआगंज अलीगढ़ निवासी सुमित चौहान उर्फ बाबा, पुनीत, विजय कुमार उर्फ लाला और समीर को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने आरोपियों के पास से बिना नंबर प्लेट की कार, दो तमंचे, तीन कारतूस और चाकू बरामद किए हैं। पकड़े गए आरोपी दीपक और सुमित चौहान के खिलाफ विभिन्न थानों में पांच-पांच मुकदमे दर्ज हैं। लुटेरों के खिलाफ एक्सप्रेस वे थाना पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर कार्रवाई की है। एडीसीपी रणविजय सिंह ने बताया कि पकड़े गए आरोपी शातिर किस्म के अपराधी हैं। आरोपी राहगीरों को अपनी स्विफ्ट कार में लिफ्ट देकर तमंचे और चाकू के बल पर आतंकित कर लूटपाट करते थे। दीपक और सुमित चौहान उर्फ बाबा ने पहले भी जनपद में लूटपाट की घटना की थीं। पुलिस पूछताछ में पता चला कि आरोपी गैंग बनाकर दिल्ली-एनसीआर समेत उत्तराखंड में भी घटनाओं को अंजाम देते थे। सोमवार रात पकड़े गए आरोपी उत्तराखंड खटीमा में किसी किसान से पांच लाख रुपये लूटने जा रहे थे। इससे पहले आरोपियों ने दनकौर थाना क्षेत्र से एक किसान से एक लाख रुपये लूटे थे और बीटा-2 थाना क्षेत्र में एक ऑटो चालक से भी लूटपाट की थी। आरोपी दीपक और सुमित चौहान उर्फ बाबा को थाना दनकौर पुलिस ने पहले भी मुठभेड में गिरफ्तार कर जेल भेजा था।