Ashes 2021-22: गैरी कर्स्टन ने इंग्लैंड की टेस्ट टीम को कोचिंग देने में दिखाई दिलचस्पी

भारत और दक्षिण अफ्रीका के पूर्व कोच गैरी कर्स्टन ने इंग्लैंड की टेस्ट टीम को कोचिंग देने में दिलचस्पी दिखाते हुए कहा कि जो रूट और उनकी टीम का भाग्य संवारने के लिये उनके पास बहुत अच्छी योजना है। ऑस्ट्रेलिया ने एशेज सीरीज के पहले तीनों मैच जीतकर एशेज अपने पास बरकरार रखी है जिसके बाद इंग्लैंड के मुख्य कोच क्रिस सिल्वरवुड का पद खतरे में पड़ गया है। ऑस्ट्रेलिया ने मेलबर्न में तीसरा टेस्ट केवल ढाई दिन में अपने नाम कर दिया था। 

कर्स्टन ने भारतीय टीम का मुख्य कोच पद संभालने के ठीक एक साल बाद दिसंबर 2009 में पहली बार भारत को टेस्ट रैंकिंग में नंबर एक पर पहुंचा दिया था। बाद में उन्होंने दक्षिण अफ्रीका के साथ भी यही उपलब्धि हासिल की थी। कर्स्टन ने 'आई न्यूज' से कहा, 'इस पर (इंग्लैंड का मुख्य कोच बनना) मैं शुरू से विचार करता रहा हूं क्योंकि यह बहुत बड़ा सम्मान है।' यह पहला अवसर नहीं है जबकि दक्षिण अफ्रीका के इस पूर्व बल्लेबाज ने ऐसी इच्छा व्यक्त की हो। इससे पहले दो अवसरों पर वह इंग्लैंड का कोच बनने के मुख्य दावेदार थे। 

 उन्होंने कहा, 'मैं अब तक दो बार (2015 और 2019) इस पद की दौड़ में रहा हूं। मैंने शुरू से स्पष्ट किया है कि मैं सभी फॉर्मेटों में यह जिम्मेदारी संभालने के लिये प्रतिबद्ध नहीं हूं। अब इंटरनेशनल क्रिकेट बोर्ड अलग फॉर्मेटों के लिए अलग कोच रखने के बारे में सोच रहे हैं तो इस पर विचार किया जा सकता है।'

वर्ल्ड कप विजेता कोच ने इंग्लैंड की 50 ओवरों की टीम को दुनिया में सर्वश्रेष्ठ बताया लेकिन कहा कि टेस्ट टीम अभी काफी पीछे है। कर्स्टन ने कहा कि उनकी टेस्ट टीम या वनडे टीम के साथ काम करना शानदार होगा। उनकी वनडे टीम अभी दुनिया में सर्वश्रेष्ठ है। मेरे पास ऐसी योजना है जो काफी सोच विचार कर तैयार की गयी है। आपकी टेस्ट टीम पिछले कुछ समय से संघर्ष कर रही है लेकिन इससे बाहर निकलने के लिए यह वास्तव में शानदार योजना होगी।'