इन लोगों के लिए जहर समान बैंगन, भूलकर भी ना करें सेवन

टेस्टी और चटपटी बैंगन की सब्जी हर कोई बड़े ही चाव से खाता है, खासकर बैंगन का भर्ता। बाजार में बैगन हर मौसम में मिलता है लेकिन सर्दी के मौसम में इसे खाने के अपने ही फायदे हैं। बैंगन में फायदेमंद पोषक तत्व होते हैं। हालांकि बैगन कुछ लोगों के लिए बहुत हानिकारक साबित हो सकता है। जी हां, कुछ हेल्थ कंडीशन में बैंगन का सेवन किया जाए तो यह किसी जहर से कम नहीं। कुछ लोगों को इस सब्जी से दूरी बना लेनी चाहिए और आज हम आपको उन्हीं के बारे में बताएंगे।

थायराइड मरीज ना करें सेवन

बैंगन नाइटशेड परिवार का सदस्य है, जिसमें सोलेनिन नामक विषैला तत्व होता है। इसका अधिक मात्रा में सेवन करने से पेट दर्द, सिरदर्द, उल्टी, खुजली या जोड़ों में दर्द का कारण बन सकता है। साथ ही यह तत्व थायराइड की समस्या को बढ़ा सकता है। इसके लिए बैगन कम खाना चाहिए। 

कैल्शियम की कमी

ऑक्सालेट के कारण कैल्शियम का अवशोषण भी कम हो जाता है। कैल्शियम की कमी से दांत और हड्डियां कमजोर हो जाती हैं। 

बवासीर

रक्तस्रावी बवासीर या खूनी बवासीर की समस्या से पीड़ित या बार-बार रक्तदान करने वाले व्यक्ति को भी बैगन के अधिक सेवन से दूर रहना चाहिए।

किडनी में पथरी

बैगन में ऑक्सालेट नामक तत्व पाया जाता है इसलिए किडनी स्टोन से पीड़ित लोगों को इसका सेवन कम मात्रा में करना चाहिए।

गर्भवती महिला

गर्भवती महिलाओं को बैगन खाने की सलाह नहीं दी जाती है। खासकर जिन महिलाओं को खून की कमी होती है उन्हें बैगन का अधिक सेवन नहीं करना चाहिए। इससे गर्भपात का खतरा रहता है।

पीरियड्स में ना करें सेवन

मासिक धर्म के समय बैगन का सेवन बिल्कुल भी नहीं करना चाहिए। दअरसल, इसकी तासीर गर्म होती है, जिससे ब्लीडिंग ज्यादा हो सकती है।

डिप्रेशन की दवाओं के साथ

अगर आप एंटी डिपेटेंट दवाएं ले रहे हैं तो बैंगन ना खाएं। इसमें कुछ ऐसे तत्व होते हैं, जिससे उल्टा रिएक्शन हो सकता है।

फैट की समस्या

इसमें फैट अधिक होता है, जिससे दिल और दिमाग को नुकसान पहुंचा सकता है। साथ ही इसे तलकर खाने की गलती ना करें।

नेत्र विकार

आंखों में जलन या कोई भी नेत्र विकार है तो बैंगन ना खाएं। इससे आपकी परेशानी काफी ज्यादा बढ़ सकती हैं। डॉक्टर भी नेत्र विकार में बैंगन ना खाने की सलाह देते हैं।