क्या सच है

चौकिये मत ,उनके न आने से पंडित नेहरू मिटाये न जा सकेगे।

दिल्ली अकेले नहीं हुई जहरीली एन सी आर भी लपेटे में।

गोबर ,गोमूत्र से सुधरेगी अर्थव्यवस्था -हे राम

अनिल त्रिपाठी