रोल प्रेक्षक आयुक्त देवीपाटन मण्डल ने की पुनरीक्षण कार्य की समीक्षा

बहराइच । जनपद भ्रमण पर आये रोल प्रेक्षक आयुक्त देवीपाटन मण्डल एस.वी.एस. रंगाराव ने शनिवार को कलेक्ट्रेट सभागार में मतदाता पुनरीक्षण कार्य की समीक्षा करते हुए उप जिलाधिकारियों को निर्देश दिया कि मतदान केन्द्रों का निरीक्षण कर मूलभूत सुविधाओं का जायज़ा लेते हुए सभी मतदान केन्द्रों पर पेयजल, रैम्प, प्रकाश, शौचालय, मतदान केन्द्र की भौतिक स्थिति, पहुॅच मार्गों इत्यादि का भौतिक सत्यापन करें तथा जो कमियॉ पायी जायें उन्हें समय रहते दुर करा दें ताकि आसन्न विधानसभा सामान्य निर्वाचन-2022 के समय किसी प्रकार की असुविधा न हो।  

आयुक्त श्री रंगाराव ने सभी उप जिलाधिकारियों को यह भी निर्देश दिया कि न्यूनतम मतदान प्रतिशत वाले 20 मतदान केन्द्रों का चिन्हॉकन कर वहॉ पर कम मतदान होने के कारणों का पता लगा कर मतदान में आ रही बाधा को दूर किया जाय। आयुक्त ने उप जिलाधिकारियों को यह भी निर्देश दिया कि पुनरीक्षण कार्य के दौरान ऐसे मतदान केन्द्रों जहॉ की सूची का जेण्डर रेशियों मानक से कम है, विशेष प्रयास कर जेण्डर रेशियों को मेनेटेन करने की कार्यवाही की जय। श्री रंगाराव ने यह भी निर्देश दिया कि पुनरीक्षण कार्यक्रम के दौरान 18 से 19 वर्ष आयु वर्ग के युवक-युवतियों का अधिक से अधिक पंजीकरण कराये जाने का प्रयास किया।

आयुक्त श्री रंगाराव ने निर्देश दिया कि डिलीशन के लिए प्राप्त होने वाले प्रपत्र 07 पर पूरी सावधानी के साथ के साथ कार्यवाही की जाय। डिलीशन की कार्यवाही करते समय आयोग द्वारा निर्धारित मानकों का अक्षरशः पालन सुनिश्चित करायें। उप जिलाधिकारी स्वयं प्रपत्र 07 का अपने स्तर से परीक्षण करें। श्री रंगाराव ने यह भी निर्देश दिया कि बूथों पर प्राप्त होने वाले प्रपत्रों के सापेक्ष सम्बन्धित को अनिवार्य रूप से प्राप्ति रसीद उपलब्ध करायी जाय। पुनरीक्षण कार्यक्रम के दौरान अधिक से अधिक लोगों का पंजीकरण हो सके इसके लिए आयुक्त ने व्यापक स्तर पर जनजागरूकता कार्यक्रम संचालित किये जाने के भी निर्देश दिये।

आयुक्त ने राजनैतिक दलों के प्रतिनिधियों से अपील की कि बूथ लेबिल एजेन्टों के माध्यम से पुनरीक्षण कार्य का व्यापक प्रचार-प्रसार करायें ताकि अधिक से अधिक अर्ह नागरिकों को नाम मतदाता सूची में नाम सम्मिलित कराया जा सके। श्री रंगाराव ने राजनैतिक दलों के प्रतिनिधियों से यह भी अपेक्षा की कि आमजन को इस बात के लिए जागरूक किया जाय कि बूथों पर प्रपत्र जमा करते समय प्राप्ति रसीद अवश्य प्राप्त करें। जिलाधिकारी डॉ. दिनेश चन्द्र ने आयुक्त को आश्वस्त किया कि बैठक में प्राप्त हुए सुझाावों का अनुपालन कराते हुए जनपद आयोग की मंशानुसार पुनरीक्षण कार्य को गति प्रदान की जायेगी।

इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी मनोज, नगर मजिस्ट्रेट ज्योति राय, उप जिलाधिकारी सदर सौरभ गंगवार आईएएस, पयागपुर के दिनेश कुमार, महसी के रामदास, कैसरगंज के महेश कुमार कैथल, नानपारा के अजित पारेश, मोतीपुर के ज्ञान प्रकाश त्रिपाठी, बन्दोबस्त अधिकारी चकबन्दी शोभाराम वर्मा, डिप्टी कलेक्टर सुभाष सिंह धामी, प्रशिक्षु डिप्टी कलेक्टर अमन देओल, बीएसए अजय कुमार व अन्य सम्बन्धित अधिकारी, राजनैतिक दलों के प्रतिनिधियों  में रणविजय सिंह, आलोक जिंदल, मनीष आर्या, ज़फरउल्लाह खॉ ‘‘बन्टी’’, आकाशदीप, डॉ. अज़ीमउल्लाह खॉ, छोटे लाल गौतम, शब्बू, एस.एम.ए. कादरी, राघवेन्द्र त्रिवेदी सहित अन्य सम्बन्धित लोग मौजूद रहे।