सिद्ध पीठ हथियाराम मठ ने ली शहादत दिवस सम्हालने की जिम्मेदारी

जखनियां (गाजीपुर)। शहीद रामउग्रह पांडेय की 50वीं सहादत दिवस पर परिजनों व आयोजक मंडल द्वारा प्रशासनिक उपेक्षा की बात बताई गई। शहीद की पुत्री सुनीता पांडेय व आयोजन समिति अध्यक्ष श्रीराम जायसवाल ने शनिवार को मीडिया से बात करते हुए कहा था कि स्थानीय प्रशासन द्वारा महावीर चक्र विजेता शहीद रामउग्रह पांडेय 50वी शहादत दिवस कार्यक्रम के बाबत कोई रुचि नहीं दिखाई जा रही है। कार्यक्रम की तैयारी में किसी प्रकार का सहयोग नहीं किया गया। 

इसकी जानकारी प्राप्त होते ही सिद्धपीठ हथियाराम मठ पीठाधीश्वर व जूना अखाड़े के वरिष्ठ महामंडलेश्वर स्वामी भवानीनंदन यति महाराज ने शहीद के परिजनों से मुलाकात कर कार्यक्रम की व्यवस्था अपने स्तर पर करने की जिम्मेदारी ली है। मठ द्वारा कार्यकर्ताओं के माध्यम से पूरी व्यवस्था संभाली जा रही है। वहीं परिजनों से भेंट कर महामंडलेश्वर श्री भवानीनन्दन यति जी महाराज ने कहाकि शहीद के श्रद्धांजलि कार्यक्रम में किसी प्रकार की कोई कमी नहीं आने दी जाएगी और शहादत का सम्मान किया जाएगा।