सेहत के लिए वरदान है तुलसी, डेली डाइट में ऐसे करें इस्तेमाल

हिंदू धर्म में तुलसी पौधे को बेहद पूजनीय माना जाता है। ऐसे में इसे घर पर लगाने का विशेष महत्व है। मगर हेल्थ एक्सपर्ट अनुसार, तुलसी के पत्ते पोषक तत्व, एंटी-बैक्टीरियल, एंटी-वायरल, एंटी-ऑक्सीडेंट व औषधीय गुणों से भरपूर होते हैं। ऐसे में इसका सेवन करने से इम्यूनिटी बढ़ने से लेकर कैंसर से बचाव तक मदद मिलती है। आप इसका तुलसी का पाउडर व तेल के तौर पर भी इस्तेमाल कर सकते है। इसमें मौजूद एंटी-सेप्टिक गुण स्किन व बालों को गहराई से पोषित करते हैं। वहीं तुलसी के बीज जिसे सब्जा या तुकमरिया कहते हैं। इसे पानी में भिगोने से ये फूल जाते हैं और इनका फालूदा जैसे पेय पदार्थों में मिलाकर सेवन किया जाता है। इसके अलावा तुलसी की पत्तियों से चाय व काढ़ा बनाकर भी पीया जाता है। इससे इम्यूनिटी बढ़ने और मौसमी बीमारियों से बचाव रहने में मदद मिलती है। ऐसे में आज हम आज हम आपके लिए तुलसी से 2 टेस्टी एंड रेसिपीज लेकर आए हैं। ऐसे में आप इसे अपनी डाइट में शामिल कर सकते हैं। चलिए जानते हैं इसे बनाने का तरीका...

1. चना तुलसी सलाद

सामग्री

जैतून तेल- 2 चम्मच

अदरक- 1/2 चम्मच (कद्दूकस किया)

शाही जीरा- 1 चम्मच

उबले हुए चने- 1 कप

नमक- 1/2 चम्मच

लाल मिर्च पाउडर- 1/2 चम्मच

अमचूर पाउडर- 1 चम्मच

तुलसी के पत्ते- 1/4 कप (कटे हुए)

चेरी टोमैटो- 4-5 ( बीच से कटे हुए)

किशमिश- 1 चम्मच

खजूर- 3 (कटे हुए)

भूने हुए बादाम 6-8 (कटे हुए)

नींबू का रस- 1 चम्मच

विधि

. पैन में तेल गर्म करके जीरा व अदरक भूनें।

. अब इसमें चने, नमक, लाल मिर्च और अमचूर पाउडर मिलाएं।

. चने पर मसाले अच्छे से लगाने से लिए इसे लगातार चलाएं।

. इसे बाउल में निकालकर 10 मिनट तक ठंडा होने दें।

. अब इसमें तुलसी के पत्ते, चेरी टोमैटो, बादाम, खजूर, किशमिश और नींबू का रस मिलाएं।

. लीजिए आपका चना-तुलसी सलाद बनकर तैयार है।

2. तुलसी-मूंग दाल चिला 

सामग्री

हरी मूंग- 1 कप

नमक- 1/2 चम्मच

तुलसी के पत्ते- 1/2 कप (कटे हुए)

मूली- 1

हरी मिर्च- 2-3 (कटी हुई)

अदरक- 1 चम्मच (कद्दूकस किया)

धनिया पाउडर- 1 चम्मच

तेल- 2-3 चम्मच

सफेद तिल के बीज- 1 चम्मच

विधि

. सबसे पहले एक बाउल में पानी और मूंग दाल डालकर रातभर भिगोएं।

. अगली सुबह इसका पानी निकाल दें।

. अब मिक्सी में दाल, नमक और 2-3 चम्मच पानी डालकर इसे पीसकर स्मूद पेस्ट बना लें।

. मूली को छीलकर इसे काट लें और पानी अलग कर लें।

. अब एक बाउल में मूंग दाल पेस्ट, मूली, तुलसी के पत्ते, हरी मिर्च, अदरक, धनिया पाउडर और तिल के बीज मिलाएं।

. इसका स्मूद और गाढ़ा सा पेस्ट बना लें।

. पैन में तेल गर्म करके एक बड़ा चम्मच बैटर का डालकर फैलाएं।

. इसे दोनों ओर से सुनहरा होने तक पकाएं।

. लीजिए आपके मूंग दाल-तुलसी चिला बनकर तैयार है।

. इसे टोमैटो सॉस, हरी चटनी या अचार के साथ सर्व करें।

तुलसी का सेवन करने के फायदे

कैंसर से बचाव

एक्सपर्ट अनुसार, तुलसी खाने से कैंसर होने का खतरा कई गुणा कम रहता है।

पाचन तंत्र करे दुरुस्त

सुुबह खाली पेट 2-3 तुलसी के पत्ते चूसने या निगलने से पाचन तंत्र मजबूत होता है। इससे पेट में दर्द, जलन,. अपच व अन्य समस्याएं दूर रहती है।

मौसमी बीमारियों से बचाव

एंटी-बैक्टीरियल, एंटी-वायरल गुणों से भरपूर तुलसी इम्यूनिटी बढ़ाने में कारगर होती है। ऐसे में सर्दी, खांसी, जुकाम, व मौसमी बुखार से बचाव रहता है। सर्दी होने पर तुलसी की चाय या काढ़ा बनाकर पीया जा सकता है।

तनाव करे कम

रिसर्च के अनुसार, तुलसी खाने से नर्वस सिस्टम शांत होने में मदद मिलती है। इससे ब्लड फ्लो में सुधार होता है। ऐसे में तनाव कम होने में मदद मिलती है।

सिरदर्द करे दिलाएं राहत

सुबह 2-3 पत्ते तुलसी खाने से सिरदर्द से राहत मिलती है। आप चाहे तो इसकी चाय या काढ़ा बनाकर भी पी सकते हैं।

सांस की बदबू करे दूर

तुलसी खाने से मुंह में मौजूद बैक्टीरिया खत्म हो जाते हैं। इससे सांस से जुड़ी परेशानियां दूर होने में मदद मिलती है।

पीरियड्स में फायदेमंद

कई महिलाओं को अनियमित पीरियड व इस दौरान असहनीय दर्द होता है। इससे समस्या से बचने के लिए तुलसी का काढ़ा पीना फायदेमंद माना गया है।