क्या सच है

महंगाई समर्थको ने बढ़ती महंगाई पर जताई ख़ुशी दिया विकाश का वास्ता।

महंगी दारू व् फ़िल्मी टिकट खरीद सकते हो तो पेट्रोल डीजल क्यों नहीं।

देवलोकवासियो की महंगाई डार्लिंग -हे राम

अनिल त्रिपाठी