महिलाओं में क्यों बढ़ती है पेट की चर्बी, जानिए ये बड़े कारण

बैली फैट हर दूसरे व्यक्ति की समस्या बन गया है, खासकर महिलाओं का। प्रेगनेंसी, मेनोपॉज, हार्मोन्स असंतुलन, पीसीओडी, थायराइड के अलावा ऐसे कई कारण है, जो महिलाओं में बैली फैट बढ़ाते हैं। चर्बी जितनी आसानी से बढ़ जाती है इसे कम करना उतना ही मुश्किल होता है। मगर, क्या आपने कभी सोचा है कि आखिर पेट के आस-पास फैट बढ़ता क्यों है?

दो तरह के होते हैं फैट

. दरअसल, शरीर में दो तरह के फैट होते हैं, सब्सटेंसियस फैट और विसरल फैट पेट के निचले हिस्से में जमा फैट को सब्सटेंसियस कहते है जो स्किन के अंदर ही अंदर तेजी से बढ़ता है। गलत लाइफस्टाइल, फिजिकल एक्टिविटी की कमी और गलत डाइट इसका सबसे बड़ा कारण है।

विसरल फैट यानि आंतों में जमा वसा कई बीमारियों को न्यौता देती है। इसे बैली फैट भी कहा जाता है जो आमतौर पर आंत, लिवर, किडनी और दिल में जमा होता है। विसरल फैट का सबसे बड़ा कारण कैलोरी फूड्स लेना है।

हमेशा हानिकारक नहीं होता थ्ंज

पेट में चर्बी का जमा होना हमेशा हानिकारक नहीं होता क्योंकि एनर्जी का भंडारण करता है। साथ ही फैट मांसपेशियों और हड्डियों को पैडिंग देने का काम भी करता है। ये त्वचा और मांसपेशियों के बीच नसों-ब्लड वेसेल्स के लिए एक रास्ते की तरह काम करता है। इसके अलावा गुड फैट बॉडी टेंमप्रेचर को को भी कंट्रोल करता है क्योंकि चर्बी शरीर को इंसुलेट करती है।

क्यों बढ़ती है पेट में चर्बी?

खराब लाइफस्टाइल

दिनभर एक ही जगह पर बैठे रहना, फिजिकल एक्टिविटी की कमी के चलते फैट एक जगह पर जमा होने लगता है। जिसना आप खाते हैं फैट उतनी ही तेजी से बढ़ता जाता है, जो धीरे-धीरे बैली फैट का रूप ले लेता है।

हार्मोनल परिवर्तन

महिलाओं में बैली फैट बढ़ने का एक कारण हार्मोनल परिवर्तन या असंतुलित होना भी है। इससे कारण मेटाबॉलिज्म धीमा पड़ जाता है और पेट में चर्बी जमा होने लगती है।

स्ट्रेस के कारण

तनाव के कारण शरीर में कोर्टिसोल का स्तर बढ़ जाता है, जिसकी वजह से आपको फूड क्रेविंग होती है। इससे आप ज्यादा खाने लगते हैं और धीरे-धीरे बैली फैट जमा हो जाता है। ऐसे में अगर फिट रहना है तो स्ट्रेस फ्री रहें।

पर्याप्त नींद न लेना

जिम्मेदारियों के कारण महिलाएं पर्याप्त नींद नहीं ले पाती, जिसके कारण हार्मोन्स असंतुलित हो जाते हैं और तनाव बढ़ जाता है। इसके कारण पेट की चर्बी भी बढ़ने लगती हैं।

एंजियोटेंसिन कन्वर्टिंग एन्जाइम

तोंद बढ़ने का एक कारण एसीई (एंजियोटेंसिन कन्वर्टिंग एन्जाइम) तत्व भी है जो खाने को पेट के आसपास इकट्ठा कर देता है। इसके कारण पेट में चर्बी की मात्रा बढ़ जाती है और तोंद बाहर निकल आती है।

कैसे घटाए बैली फैट?

बैली फैट कम करने के लिए आपको ज्यादा कुछ नहीं बस छोटे-छोटे टिप्स फॉलो करने होंगे

जैसे मोबाइल पर बात करते समय बैठें नहीं बल्कि चलें।

ऑफिस में ऊपर नीचे जाने के लिए लिफ्ट की बजाए सीढ़ियां इस्तेमाल करें।

जितना हो सके खड़े होकर काम करने की कोशिश करें।

एक ही जगह पर घंटों बैठे ना रहें, खासकर कुछ भी खाने के बाद। खाने के बाद 10-15 मिनट वॉक करें, साथ ही 8-9 घंटे की ड्यूटी के दौरान हर 1 घंटे बाद उठते रहें।

हार्मोन्स को बैलेंस करें। इसके लिए एक्सरसाइज और डाइट का सहारा लें।

posted by - दीपिका पाठक