पाकिस्तान के कराची में "रहस्यमय वायरल बुखार" से उड़ी नींदें, देखे क्या कहते हैं एक्सपर्ट

स्थानीय मीडिया ने फील्ड विशेषज्ञों के हवाले से बताया है कि पाकिस्तान के कराची में "रहस्यमय वायरल बुखार" के मामले देखे जा रहे हैं। ये केस डेंगू बुखार से काफी मिलते-जुलते हैं क्योंकि इसमें भी मरीजों के प्लेटलेट्स कम हो रहे हैं और सफेद रक्त कोशिकाएं भी कम हो रही हैं। लेकिन डेंगू की जांच करने में इनके परिणाम नकारात्मक आ रहे हैं।

चिकित्सकों और पैथोलॉजिस्टों का हवाला देते हुए बताया कि जब डेंगू के लिए वायरल बुखार का परीक्षण किया गया, तो परिणाम नकारात्मक आया। डॉव यूनिवर्सिटी ऑफ हेल्थ साइंसेज में आणविक विकृति विज्ञान के प्रमुख प्रोफेसर सईद खान ने कहा, "कुछ हफ़्ते से हम वायरल बुखार के मामले देख रहे हैं, जिसमें प्लेटलेट्स और सफेद रक्त कोशिकाएं गिर रही हैं, जबकि दूसरे ​​लक्षण भी डेंगू बुखार के समान हैं। लेकिन जब इन रोगियों का NS1 एंटीजन किया गया, तो उनकी रिपोर्ट नकारात्मक आई हैं।"

शहर के विभिन्न अस्पतालों के चिकित्सकों और हेमेटो-पैथोलॉजिस्ट सहित अन्य विशेषज्ञों ने भी पुष्टि की है कि कराची में एक डेंगू वायरस जैसा रोगज़नक़ घूम रहा है, जिससे एक ऐसी बीमारी हो रही है जो डेंगू बुखार के समान काम कर रही है और इसके लिए समान उपचार प्रोटोकॉल की आवश्यकता है लेकिन यह है डेंगू बुखार नहीं।

जिला स्वास्थ्य अधिकारी (डीएचओ) के हवाले से बताया कि पाकिस्तान की राजधानी इस्लामाबाद में शुक्रवार को डेंगू बुखार के 45 नए मामले सामने आए हैं। पाकिस्तानी मीडिया के मुताबिक, मौजूदा सीजन में संघीय राजधानी में डेंगू  के कुल 4,292 मामले सामने आए हैं। विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के अनुसार, डेंगू एक मच्छर जनित वायरल संक्रमण है जो गर्म, उष्णकटिबंधीय जलवायु में आम है और अक्सर बारिश के मौसम में चरम पर होता है।