3 साल की उम्र में ही बच्चों को सिखाना शुरु कर दें ये आदतें, ताउम्र रहेंगे स्वस्थ

बच्चों की परवरिश करना बेहद ही चुनौतीपूर्ण काम होता है। इस दौरान माता-पिता को कई सारी बातों व चीजों का ध्यान रखने की जरूरत होती है। ताकि उनका शारीरिक, मानसिक विकास बेहतर हो। इसके साथ ही उनका व्यवहारिक ज्ञान बढ़े। वहीं 3 साल तक के बच्चे चीजों को अच्छे से बोलने, समझने में सक्षम हो जाते हैं। ऐसे में इस दौरान पेरेंट्स को उन्हें बेसिक स्किल्स के बारे में बताना बेहद जरूरी है। चलिए जानते हैं कुछ जरूरी बातों के बारे में...

3 साल के बच्चे को ये चीजें खुद से करनी सिखाएं

अगर आपका बच्चा 3 साल का हो गया है तो उसे कुछ जरूरी स्किल्स सिखाएं। आप उसे खुद का काम करना सीखा सकते हैं। उदाहरण के तौर पर वे अपने कपड़ों व खिलौने संभाले। इससे उनका काम करने के प्रति आत्मविश्वास बढ़ेगा। इसके साथ ही उनके अंदर इंडिपेंडेंट होने की भावना आएगी। बच्चों पर हुई कई स्टडीज और एक्सपर्ट्स के मुताबिक बच्चे के 3 साल का होने पर पेरेंट्स को उन्हें ये चीजें जरूर सिखानी चाहिए।

रोजाना पढ़ने की डालें आदत

स्कूल डालने के लिए बच्चे की उम्र 3 साल की होनी चाहिए। ऐसे में अगर आपका बच्चा 3 साल का है तो उसका स्कूल में एडमिशन करवा दें। इसके साथ ही पेरेंट्स घर पर खुद भी बच्चे को धीरे-धीरे पढ़ना, लिखना सिखाएं। इससे उन्हें स्कूल में पढ़ाई दौरान मुश्किल नहीं आएगी। उनकी पढ़ाई में रूचि बढ़ेगी। आप बच्चे को क्रिएटिव तरीके से पढ़ा सकते हैं।

खुद को साफ-सुथरा रखने की आदत

अपने 3 साल के बच्चे को साफ-सफाई के बारे में समझाएं। उसे खुद की सफाई करने की आदत डालें। अगर बच्चे खुद को साफ रखेंगे तो वे अपने आसपास की सफाई का भी ध्यान रखेंगे।

खुद भोजन करना

3 साल से कम उम्र के बच्चों को पेरेंट्स ही खाना खिलाते हैं। मगर आपका बच्चा 3 साल का हो गया है तो आप उन्हें खुद के भोजन खाने की आदत डालें। हो सकता है कि भोजन करने दौरान शुरू-शुरू में आपका बच्चा गलतियां करें। मगर आपके द्वारा उसे बताने से वह धीरे-धीरे सीख जाएंगे।

बच्चों को फिजिकल एक्टिविटी करना सिखाएं

अपने 3 साल के बच्चे को घंटों आराम से बैठने या ना खेलने की आदत ना डालें। इसकी जगह बच्चों के बेहतर शारीरिक व मानसिक विकास के लिए उसे अलग-अलग फिजिकल एक्टिविटी सिखाएं। उसे घर से बाहर पार्क ले जाकर खेलने की आदत डालें। आप चाहे तो बच्चे के साथ खुद भी घर पर कोई गेम खेल सकते हैं। इसके अलावा उसके दोस्तों को घर बुलाकर बच्चों को गेम्स खिला सकते हैं।

खुद से ब्रश करने की आदत डालें

बच्चों को बचपन से ही ओरल हाईजीन का ध्यान रखना सिखाएं। ताकि वे हमेशा हेल्दी रहे। इसके लिए आप अपने 3 साल के बच्चे को खुद से ब्रश करने की आदत डालें। मगर इस दौरान ध्यान रखें कि बच्चा सही से ब्रश करें। वह पेस्ट को मुंह के अंदर निकल ना लें। उन्हें धीरे-धीरे व प्यार से गलतियों के बारे में बताएं और ठीक से ब्रश करना सिखाएं।