फोन टैपिंग मामले में दिल्ली पुलिस सक्रिय, सीएम गहलोत के OSD से करेगी पूछताछ

जयपुर : राजस्थान में फोन टैपिंग मामले में दिल्ली पुलिस सक्रिय हो गई है। पुलिस ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के ओएसडी लोकेश शर्मा को नोटिस भेज पूछताछ के लिए तलब किया है। उन्हें 22 अक्तूबर को 11 बजे पुलिस की क्राइम ब्रांच के सामने हाजिर होना पड़ेगा। इससे पहले भी 24 जुलाई को लोकेश शर्मा को पूछताछ के लिए बुलाया गया था, लेकिन तब वे हाजिर नहीं हुए थे। 

13 जनवरी तक गिरफ्तारी पर लगी है रोक 

केंद्र सरकार में जलशक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत की शिकायत पर लोकेश शर्मा समेत अन्य पर फोन टैपिंग मामले में केस दर्ज किया गया था। इस मुकदमे के खिलाफ लोकेश शर्मा दिल्ली हाईकोर्ट पहुंचे थे। कोर्ट ने लोकेश शर्मा की गिरफ्तारी पर 13 जनवरी तक रोक लगा दी थी। हालांकि, पुलिस पूछताछ कर सकती है। हाईकोर्ट में इस मामले में अब तक तीन बार सुनवाई हो चुकी है। इससे पहले क्राइम ब्रांच ने मुख्य सचेतक महेश जोशी को भी समन जारी किया था, लेकिन वह भी पूछताछ के लिए हाजिर नहीं हुए थे। 

क्या है विवाद

जुलाई 2020 में सचिन पायलट खेमे ने सीएम गहलोत के खिलाफ बगावत कर दी थी। इसके बाद गहलोत सरकार ने भाजपा पर विधायकों की खरीद-फरोख्त के आरोप लगाए थे। इसको लेकर केंद्रीय जलशक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत का एक कथित टेप भी वायरल किया गया था। आरोप लगाया गया था कि वह कांग्रेस विधायक भंवरलाल शर्मा के साथ सौदेबाजी कर रहे हैं। हालांकि, बाद में यह मुद्दा शांत हो गया, लेकिन मार्च में भाजपा विधायक की ओर से पूछे गए एक सवाल में सरकार ने खुद माना कि उन्होंने विधिक प्रक्रिया अपनाकर कुछ खास लोगों के फोन टैप करवाए थे। इसके बाद काफी बवाल मचा और विधानसभा में भी इस पर काफी हंगामा हुआ था।