KKR vs PBKS: राहुल की एक गलती के चलते केकेआर की जीत की उम्मीदों पर फिरा पानी, पंजाब 5 विकेट से सफल रही

क्रिकेट में कहा जाता है कि 'कैच पकड़ो और मैच जीतो' यानी कैच पकड़िए और मैच जीतिए। और एक कैच का कितना महत्व होता है यह देखने को मिला कोलकाता नाइट राइडर्स और पंजाब किंग्स के खिलाफ खेले गए मैच के दौरान। रोमांच अपने चरम पर था और आखिरी ओवर में पंजाब किंग्स को जीत के लिए 5 रनों की दरकार थी। लेकिन, हर किसी के जहन में राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ पंजाब को लास्ट ओवर में मिली हार का डर था। यह डर और उस समय और भी बड़ा हो गया जब कोलकाता नाइट राइडर्स के गेंदबाज वेंकटेश अय्यर ने सेट बल्लेबाज केएल राहुल दूसरी गेंद पर पवेलियन भेज दिया। वेंकटेश के ओवर की अगली बॉल पर युवा बल्लेबाज शाहरुख खान ने हवा में शॉट खेला और गेंद सीथा राहुल त्रिपाठी के हाथों में गई, लेकिन राहुल इस कैच को पकड़कर नहीं रख सके और बॉल बाउंड्री पार चली गई। राहुल की गलती के चलते केकेआर की जीत की उम्मीदों पर पानी फिर गया और पंजाब इस मुकाबले को 5 विकेट से अपने नाम करने में सफल रही। 

राहुल त्रिपाठी की यह गलती टीम को काफी भारी भी पड़ सकती है। क्योंकि केएल राहुल की टीम के खिलाफ मिली केकेआर को यह इस सीजन की 7वीं हार भी रही और प्लेऑफ में पहुंचने की राह अब पहले से ज्यादा कठिन दिखने लगी है। कोलकाता का यह फील्डर अगर इस कैच को पकड़ने में कामयाब हो जाता तो ना सिर्फ मैच का, बल्कि प्वॉइंट टेबल का भी समीकरण कुछ अलग ही होता। केकेआर के पास अब दो मैच बचे हैं और दोनों में ही जीत दर्ज करने के बाद भी टीम के कुल प्वॉइंट 14 की होंगे। वहीं, दूसरी तरफ पंजाब के भी जीत के साथ अब कोलकाता के बराबर 10 प्वॉइंट हो गए हैं। यानी अगर पंजाब ने अपने बाकी दोनों मैच बड़े अंतर से जीत लिए तो कोलकाता को यह हार काफी भारी पड़ सकती है। 

पंजाब की तरफ से कप्तान केएल राहुल ने 67 रनों की शानदार पारी खेली और शुरुआत से अंत तक एक छोर को संभाले रखा। राहुल पारी के आखिरी ओवर की दूसरी गेंद पर आउट हुए। उनके अलावा मयंक अग्रवाल ने 27 गेंदों में 40 रनों की ताबड़तोड़ इनिंग खेली। इससे पहले केकेआर की तरफ से वेंकटेश अय्यर ने 67 रनों की शानदार पारी खेली जिसके बूते कोलकाता की टीम 20 ओवर में 165 रनों के स्कोर तक पहुंच सकी। कोलकाता ने आखिरी के पांच ओवर में अपने चार बड़े विकेट गंवाए और टीम सिर्फ 43 रन ही बना सकी।