EOW की इंजीनियर विजय दरियानी के घर पर छापेमारी, करोड़ों की अवैध संपत्ति बरामद

उज्जैन : आर्थिक अपराध शाखा (ईओडब्ल्यू ) उज्जैन ने देवास में काम कर रहे टाउन और कंट्री प्लानिंग के इंजीनियर विजय दरियानी के घर पर छापेमारी की। इस छापेमारी में ईओडब्ल्यू की टीम ने करोड़ों की अवैध संपत्ति, 3 कारें, लाखों रुपये नकदी समेत कई फाईलें भी जब्त की हैं। इंजीनियर के घर से टाउन प्लानिंग की भी कई जरूरी फाईलें और नक्शें बरामद हुए हैं।  

केवल 50 हजार महीने की तनख्वाह वाले दरियनी के शौक और जिंदगी नवाबों से कम नहीं थी। 4000 वर्ग फीट का एक आलिशान बंगला, महंगी शराब का शौक। इसे देख कर सभी अफसर दंग रह गए थे। छत पर मेहमानों के स्वागत के लिए सजावट करके ट्रॉली में शराब लाने की सुविधा, वेज और नॉनवेज दोनों तरह के पकवान और भी कई तरह की सुविधाएं दरियानी ने सिर्फ 50 हजार की तनख्वाह में ही कर रखी थी। उस पूरे घर में महंगे बोनसाई और कई तरह के पौधे लगवा रखे थे। इसके अलावा एक मॉल में भी संपत्ति खरीदी थी।  

ईओडब्ल्यू  के 40 अफसरों की टीम ने सुबह 6 बजे ही दरियानी के 4 ठिकानों पर एक साथ छापेमारी की। एसपी दिलीप सोनी ने दरवाजे पर आवाज लगाते हुए कहा कि आपके मोबाइल की दुकान पर आग लग गई है। यह सुनते ही दरियानी ने दरवाजा खोल दिया। इसके बाद टीम ने अपनी कार्रवाई शुरु कर दी।  

कार्रवाई के दौरान पता चला की विजय दरियानी का 1984 में जब नौकरी लगी थी तब उसकी तनख्वाह मात्र 500 रूपये थी। 37 सालों तक नौकरी करने के बाद वह 50 हजार की तनख्वाह पर काम कर रहा था। अभी उसकी नौकरी के 7 साल और बचे थे। छापेमारी के दौरान टीम को इंदौर टाउन और कंट्री प्लानिंग विभाग के भी कई दस्तावेज मिले हैं जबकी वह वहां से पांच सालों पहले ही हट चुका था। विभाग इस आधार पर ईओडब्ल्यू  के 40 अफसरों की टीम ने सुबह 6 बजे ही दरियानी के 4 ठिकानों पर एक साथ छापेमारी की।