व्रत में ना हो सेहत को नुकसान, जानिए क्या खाएं और क्या नहीं

07 अक्टूबर से नवरात्रि के शुभ दिन शुरु होने वाले हैं जो 07 अक्टूबर शुरू होकर से 15 अक्टूबर को समाप्त होंगे। बहुत-सी महिलाएं मां दुर्गा की अपार कृपा पाने व मनोकामनाओं की पूर्ति के लिए नवरात्रि व्रत रखती हैं। व्रत के दौरान व्रत स्पैशल खास चीजें ही इन दिनों में खाई जाती हैं। नवरात्रि में महिलाओं को डिहाइड्रेशन, एसिडिटी, थकान, ब्लड प्रैशर कम हो जाना आदि जैसी होने वाली सेहत संबंधी कई समस्याएं होने लगती है लेकिन इन सब समस्याओं को बेहतर खान-पान की मदद से दूर किया जा सकता है। चलिए आज हम आपको बताते हैं कि इस दौरान आपको क्या खाना चाहिए और क्या नहीं।

1. व्रत के दौरान ध्यान में रखें ये बातें

भूखे ना रहें

3 से 4 घंटों के अंतराल तक भूखें ना रहें। बहुत-सी महिलाएं व्रत के दौरान सारा दिन भूखी रहती है और फिर एक ही बार में ज्यादा डाइट खाती हैं इसी के चलते खाना जल्दी डाइजेस्ट नहीं हो पाता। एसिडिटी, कब्ज, सिर में भारीपन, घबराहट जैसी समस्या होने लगती है। एक दम से हैवी खाने की बजाए थोड़ी थोड़ी देर बाद फल, जूस और दूध लेते रहें।

भरपूर पानी पीएं

व्रत के दौरान भरपूर पानी पीएं, ताकि डिहाइड्रेशन की समस्या ना हो। पानी की जगह आप नारियल पानी, मीठी लस्सी, जूस आदि की भी ऑप्शन रख सकते हैं।

साबुदाना और सिंघाड़े का आटा

साबुदाना और सिंघाड़े के आटे में प्रोटीन, कैल्शियम, मैग्नीशियम जैसे तत्व होते हैं इसलिए इसे अपनी डाइट का हिस्सा जरूर बनाएं। इसके अलावा आप साबूदाना टिक्की, खीर, पापड़ या खिचड़ी भी खा सकते हैं सिंघाड़े की जगह कुछ लोग कुट्टू का आटा भी इस्तेमाल करते हैं लेकिन सिंघाड़े व कट्टू के आटे की रोटी रात की बजाए दोपहर के समय खाएं ताकि अपच की समस्या ना हो।

एक ही समय पर करें भोजन

सारा दिन ही खाते रहना भी सही नहीं है क्योंकि व्रत के नाम पर दिन भर अगर आप ऑयली फ्राई चीजें खाएंगी तो एसिडिटी, गैस, और उल्टी-मतली आदि की समस्या हो सकती हैं। इसकी बजाए दिन में 1 बड़ा और 2-3 छोटे-छोटे मील्स लें, जिसमें फल जैसे सेब, केला, चीकू, पपीता, तरबूज व अंगूर और सुखे मेवे जैसे कीवी फ्रूट, प्रून्स, खुबानी, अंजीर, किशमिश, ब्लूबेरी, और खजूर आदि शामिल हो।

2. शरीर में एनर्जी बनाए रखने के लिए क्या खाएं

दही और मखाना

दही में प्रोटीन, कैलोरी और ऊर्जा होती है। इसके अलावा इससे प्यास भी अधिक नहीं लगती और आपका पेट भी भरा रहता है। वहीं हाई कार्बोहाइड्रेट और लो-फैट मखाना व्रत के दौरान आपको एनर्जी से भरपूर रखने में मदद करेगा। आप चाहें तो इसकी खीर बनाकर भी खा सकती हैं।

मखाने व चिवड़ा मिक्सचर

शाम की चाय के साथ आप स्नैक्स के तौर पर मखाने या चिवड़ा मिक्सचर खा सकते हैं। टेस्टी होने के साथ-साथ यह पौष्टिक भी होता है जो व्रघ्त के दौरान शरीर को एनर्जी और पोषण देता है।

उबला आलू और शकरकंद

आलू में आयरन, 70ः पानी, कैल्शियम, फास्फोरस, पोटेशियम, बीटा कैरोटीन, आयरन, विटामिन बी और सी जैसे पोषक तत्व होते हैं, जोकि सेहत के लिए फायदेमंद हैं। आप आलू-रतालू व शकरकंद की चाट बनाकर भी खा सकते हैं। इससे आपको एनर्जी तो मिलेगी ही साथ ही में आपका पेट लंबे समय तक भरा रहेगा।

मुट्ठीभर ड्राई फ्रूट्स

मुट्टीभर ड्राई फ्रूट्स जरूर खाएं। यह आपको एनर्जी भी देंगे और भूख पर कंट्रोल भी रखेंगे। आप काजू बादाम व किशमिश को शामिल कर सकते हैं।

3. किन चीजों का परहेज जरूरी

.हाई शुगर फूड्स, आलू से बनी फ्राई, ज्यादा मसालेदार व तली भुनी चीजों से परहेज करें। रात को हल्का-फुल्का खाएं।

.बहुत से लोगों को व्रत के दौरान थकान होती है ऐसे में वह चाय का सहारा लेते हैं। अगर आपने चाय पीनी ही है तो खाली पेट व सुबह-सुबह ना पीएं क्योंकि इससे एसिडिटी व गैस की समस्या होगी। चाय पीने से पहले एक गिलास पानी पी लें। इससे सीने में जलन आदि की समस्या भी नहीं होगी। ब्रेकफास्ट में स्किम्ड मिल्क के साथ फल लें।

.व्रत के दौरान तेल में तली पूरियां, पकौड़े या आलू चिप्स ना खाएं क्योंकि ये हाई कैलोरी चीजें वजन बढ़ाती हैं, खासकर रात को। इसकी बजाए हल्का-फुल्का खाएं जो आसानी से पच जाए।

.व्रत के दौरान हैवी वर्कआउट करने की बजाए हल्की-फुल्की एक्सरसाइज करें। योग, मेडिटेशन, प्रणायाम, सैर करें।