महागौरी रूप धारण कर भगवती ने भक्तो का किया कल्याणः महाराज

सहारनपुर। राधा विहार स्थित महाशक्ति पीठ वैष्णवी महाकाली मन्दिर में नवरात्री महोत्सव पर महागौरी माता की पूजा अवसर पर स्वामी कालेन्द्रानन्द महाराज ने कहा कि महागौरी रूप धारण कर भगवती ने भक्तो का कल्याण किया।

श्री राम कृष्ण विवेकानन्द संस्थान के तत्वावधान में आयोजित नवरात्री महोत्सव में महागौरी माता का महास्थान एवं पंचामृत से दुर्गा सहत्रनाम स्त्रोत से महाअभिषेक किया गया। तत्पश्चात मां को भव्य श्रृगंार कर भोग अर्पण किया गया एवं माता की दिव्य आरती उतारी गई एवं महाराज ने कन्या पूजन भी किया।

महागौरी महिला का वर्णन करते हुए स्वमी कालेन्द्रानन्द महाराज ने कहा कि महागौरी माता को महादुर्गा रूप में भी अष्टमी को जो भक्त पूजन कर कन्याओ की मां रूप में जिमाते है उनको भगवती की विशेष कृपा प्राप्त होती है। इस अवसर पर पं. ऋषभ शर्मा, राजेन्द्र, अश्वनी काम्बोज, राकेश राय, कमल कश्यप, उमा, गीता, वर्षा, सविता, बाला, कमला एवं ममता आदि मौजूद रहे।

इसके अतिक्ति भूतेश्वर महादेव मंदिर में पिछले 8 दिनों से चल रही मां भगवती की पूजा अर्चना पंडित योगेश दीक्षित के नेतृत्व में विधि विधान के साथ प्रत्येक दिन कराई गई। जिसके पश्चात अष्टमी पूजन किया गया, जिसमें सर्वप्रथम मां भगवती की आरती कर विधि विधान के साथ हवन यज्ञ किया गया और उसमें पूर्णाहुति दी गई। इसके पश्चात सभी श्रद्धालुओं द्वारा कन्याओं के पैर धोकर उनको जिमिया गया। इस कार्य में सभी लोगों ने बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया। 

इस बारे में जानकारी देते हुए पंडित योगेश दीक्षित ने बताया कि हर वर्ष मां भगवती के मंदिर में विधि विधान के साथ पूजा अर्चना कर कन्याओं का पूजन किया जाता है। इस बार 151 अखंड ज्योति प्रज्वलित की गई और 151 कन्याओं को जीमाया गया। अगली बार मां भगवती की कृपा रही तो 251 अखंड ज्योत प्रज्वलित की जाएगी और कन्याओं का पूजन किया जाएगा। इस कार्य में मुख्य रूप से पंडित मुकेश दीक्षित, भारत भूषण गुरुजी, सागर गुप्ता, शंकर के अलावा सैकड़ों की संख्या में लोग मौजूद रहे।