चुनाव नजदीक आते ही फिर निकला बुन्देलखण्ड राज्य का जिन्न!

- भारतीय शक्ति चेेतना पार्टी ने की पृथक बुन्देलखण्ड राज्य बनाने की मांग

बांदा। भारतीय शक्ति चेतना पार्टी द्वारा आज कलेक्ट्रेट में प्रदर्शन कर प्रधानमंत्री को ज्ञापन भेजकर विधानसभा चुनाव से पहले ही बुंदेलखंड को अलग राज्य घोषित करने की मांग की गई है।प्रधानमंत्री को भेजे गए पत्र में कहा गया है कि बुंदेलखंड वासियों ने लोकसभा और विधानसभा चुनाव में भाजपा का भरपूर समर्थन किया है। इस समय उत्तर प्रदेश और केंद्र में भाजपा की सरकार है इसलिए विधानसभा चुनाव से पहले ही बुंदेलखंड को अलग राज्य का दर्जा दिया जाए। तभी यहां का विकास होगा, किसानों द्वारा की जा रही आत्महत्याओं की घटनाएं खत्म होंगी और बेरोजगारों को रोजगार मिलेगा।

पत्र में कहा गया है कि 2014 से 2019 तक भाजपा के शासनकाल में बुंदेलखंड को अलग राज्य बनाने के लिये कोई महत्वपूर्ण काम नही किया गया, जिससे बुंदेलखंड वासियों की भावनाएं खंडित हो रही हैं। जब तक बुंदेलखंड राज्य को अलग नहीं किया जाता जाएगा ,तब तक भारतीय शक्ति चेतना पार्टी के माध्यम से इस राज्य को अलग बनाने के लिए समय-समय पर आवाज उठती रहेगी।