कोहली को लेकर माइकल वॉन ने दिया बड़ा बयान

इंग्लैंड के पूर्व कप्तान माइकल वॉन को लगता है कि रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के कप्तान के रूप में विराट कोहली की विरासत को एक ऐसे रूप में याद किया जाएगा, जहां वे फ्रेंचाइजी के साथ एक भी आईपीएल ट्रॉफी नहीं जीत सके। आरसीबी के कप्तान के रूप में कोहली का सफर सोमवार को खत्म हो गया, क्योंकि उनकी टीम एलिमिनेटर मुकाबले में कोलकाता नाइट राइडर्स से चार विकेट से हार गई और आईपीएल 2021 से बाहर हो गई। वॉन ने स्वीकार किया कि कोहली ने एक टेस्ट कप्तान के रूप में बहुत कुछ हासिल किया है, लेकिन आईपीएल में कप्तानी को लेकर उलझन में ही रहे।

'क्रिकबज' से बात करते हुए वॉन ने कहा, 'विराट भारतीय टेस्ट टीम और टेस्ट क्रिकेट के लिए बेहतरीन काम कर रहे हैं। इससे भारतीय क्रिकेट का खूब विकास हो रहा है। लेकिन आपको ईमानदारी से यह कहना होगा कि उनमें भारत की तरफ से टी-20 इंटरनेशनल और वनडे में कप्तानी करने और आईपीएल में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर की तरफ से कप्तानी करने में बहुत फर्क देखा गया है।' वॉन ने कहा, 'उन्हें जिस टैलेंट और टीम के साथ काम करना है, वह अभी उनके साथ है। आरसीबी की टीम पिछले कुछ सालों में बल्लेबाजी के मामले में काफी आगे बढ़ गई है और इस साल ग्लेन मैक्सवेल, हर्षल पटेल और चुजवेंद्र चहल की मौजूदगी में उनकी गेंदबाजी भी अच्छी थी, लेकिन इसके बाद भी टीम खिताब और अपने लक्ष्य से दूर रह गई।'

बता दें कि विराट ने आरसीबी के लिए 140 मैचों में कप्तानी की, जिसमें से टीम को 66 में जीत हासिल हुई, जबकि 70 में टीम को हार का सामना करना पड़ा। विराट की कप्तानी में साल 2016 में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर की टीम ने फाइनल तक का सफर तय किया, लेकिन फाइनल में सनराइजर्स हैदराबाद कोहली और ट्रॉफी के आड़े आ गई। कोहली ने आरसीबी की तरफ से खेलते हुए आईपीएल में 42 अर्धशतक जड़े तो 5 सेंचुरी भी ठोकी। सिर्फ यही नहीं एक सीजन में सबसे ज्यादा रन बनाने का रिकॉर्ड भी विराट के नाम ही है, जो आजतक कोई बल्लेबाज नहीं तोड़ सका है।