दही के साथ किशमिश का सेवन करने से नियंत्रण में रहता है यूरिक एसिड

शरीर में यूरिक एसिड के लेवल का बढ़ जाना काफी कष्ट देता है। इसकी अधिकता होने पर जोड़ों में सूजन और दर्द की शिकायत होने लगती है। तलवों में बराबर जलन बनी रहती है। यूरिक एसिड के स्तर को कम करने के लिए हमें अपने खानपान में थोड़े बदलाव करने की जरूरत होती है। कई अध्ययनों में यह पाया गया है कि कम वासयुक्त दूध के सेवन से यूरिक एसिड का लेवल कम होता है और गठिया की शिकायत नहीं होती। कुछ ऐसे ही डेयरी प्रोडक्ट्स के बारे में हम आपको बता रहे हैं जो यूरिक एसिड के लेवल को कम करने के सहायक होते हैं।

दही के साथ किशमिश का सेवन, अगर आप लो फैट दही के साथ रोजाना किशमिश का सेवन करते हैं तो ये यूरिक एसिड के बढ़े हुए लेवल को आश्चर्यजनक रूप से कम करता है। इसमें मौजूद प्रोटीन हमारी हड्डियों को मजबूती देता है और हमें दर्द और सूजन से राहत मिलती है।

छाछ- यूरिक एसिड को संतुलित करने के लिए अपने दोपहर के भोजन में छाछ को जरूर सम्मिलित करें। इससे शरीर में पानी की पर्याप्त मात्रा बनी रहती है और हड्डियों को भी पोषण मिलता है। लीडिंग हेल्थ वेबसाइट छाछ आदि डेयरी प्रोडक्ट्स यूरिक एसिड को हमारे यूरिन के जरिए शरीर से बाहर निकलने में मदद करते हैं।

बिना वसा का पनीर- यूरिक एसिड के स्तर को कम करने में बिना बिना वसा का पनीर खाना फायदेमंद होता है। आप इसे हल्के नमक के साथ या चाट मसाला के साथ ले सकते हैं।

और क्या खाएं हाई यूरिक एसिड के मरीज-

दाल- यूरिक एसिड के लेवल को कम करने के लिए मटर, मसूर, राजमा का दाल खाना फायदेमंद साबित होता है। ये दाल हमारे यूरिक एसिड के स्तर को संतुलित रखते हैं।

खट्टे फल- खट्टे फल यूरिक एसिड को कम करने में बेहद फायदेमंद होते हैं। लेकिन इस बात का ध्यान रखें कि आप जो खट्टा फल खा रहे हैं वो ज्यादा मीठा न हो। खट्टे फलों में आप संतरा, नींबू, चकोतरा आदि खा सकते हैं।