विहिप बजरंग दल ने राष्ट्रपति को ज्ञापन भेजा

सहारनपुर। बांग्लादेश, पाकिस्तान, अफगानिस्तान में लगातार हिन्दुओं के ऊपर हो हमलों के विरोध में आज विश्व हिन्दू परिषद, बजरंग दल ने संयुक्त रूप से एक ज्ञापन जिला प्रशासन के माध्यम से देश के राष्ट्रपति को भेजकर पडौसी देशों में रह रहे हिन्दुओं की रक्षार्थ सुरक्षा नीति सुनिश्चित किये जाने की मांग की है।

विहिप व बजरंग दल कार्यकर्ताओं को महामहिम राष्ट्रपति को भेजे ज्ञापन में अवगत कराया कि बांग्लादेश, पाक व अफगानिस्तान में बहुत कम संख्या में हिन्दू अल्पसंख्यक रह रहे हैं, आये दिन उन पर जेहादियों द्वारा निशाना बनाकर उनके घरों में लूटपाट, धार्मिक स्थलों पर तोड़फोड़ बहू-बेटियों की इज्जत से खिलवाड करना, मूर्तियों को तोड़ना, दुष्कर्म की घटनाएं करने मानवता को शर्मशार करने वाली घटनाएं हैं। हजारों जिहादियों द्वारा हिन्दुओं का सामूहिक नरसंहार किया जाना चिंता का विषय है। इन देशों में रह रहे हिन्दुओं पर आये दिन अत्याचार हो रहे हैं लेकिन किसी अंतर्राष्ट्रीय मानवाधिकार संगठनों द्वारा इन पर कोई भी आपत्ति नहीं दर्ज करायी जा रहे हैं जिससे इन देशों में अत्याचार की घटनाएं दिनों दिन बढ़ रही हैं।

विहिप मांग करता है कि बांग्लादेश सरकार हिन्दुओं के हत्यारे, हमलावर जिहादियों को तत्काल गिरफ्तार कर मुआवजा दे, विध्ंवस की गयी सम्पत्ति की क्षतिपूर्ति कर मंदिरों का पुननिर्माण कराकर सुरक्षा व्यवस्था बढाये, अंतर्राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग, संयुक्त राष्ट्र संघ आदि वैश्विक समुदाय के संगठनों को हिन्दुओं के मानवाधिकारों को भी समझना होगा और उनकी रक्षार्थ प्रभावी उठाये जाने चाहिए। ज्ञापन देने वालों में मुख्य रूप से कपिल, सागर भारद्वाज,सुनील मित्तल, अनुज, दिव्यांश, अनिरूद्ध, नितिन, सोनू, सचिन, अंकुर, तुषार आदि प्रमुख रहे।