साइबर अपराध से बचने के लिए सुरक्षा और सतर्कता बहुत ज़रूरी -अपर पुलिस अधीक्षक नगर


गाजीपुर। रविवार काे पुलिस लाइन परिसर के सभागार में अपर पुलिस अधीक्षक नगर गोपीनाथ सोनी द्वारा जनपद के लोगों को समस्त साइबर अपराध से बचाव और रोकथाम की जानकारी दी गई। वहीं लोगों को सतर्क रहकर जागरूकता फैलाकर साइबर अपराध से बचा और बचाया जा सकता है। प्रभारी साइबर सेल उ.नि. रमेश कुमार ने कहा कि सामान्य दिशा-निर्देश का पालन कर साइबर धोखाधड़ी, अपराध से बचा जा सकता है। किसी भी अनजान व्यक्ति से ओटीपी, डेबिट कार्ड/क्रेडिट कार्ड डिटेल एवं यूजर आईडी/पासवर्ड शेयर न करें। चाहें वह बैंक कर्मी हो या ट्रेजरी आफिसर या अन्य कोई हो। कोई व्यक्ति यदि बातों-बातों में आपसे कोई रिमोट एक्सेस एप जैसे- क्वीक सपोर्ट, एनीडेक्स आदि डाउनलोड करने को कहे तो कदापि न करें। विभिन्न माध्यमों जैसे- एसएमएस, ई-मेल, व्हाट्सएप मैसेज आदि पर प्रसारित/प्राप्त हो रहे लिंक को कदापि न खोलें। किसी भी कंपनी का कस्टमर केयर नंबर गूगल पर सर्च करके प्रयोग में न लाएं। नंबर प्राप्त करने के लिए उस कंपनी द्वारा उपलब्ध कराए गए डाक्यूमेंट को देखें। केवल आधिकारिक वेबसाइटों पर उपलब्ध नंबर का प्रयोग करें। एटीएम से पैसा निकालते समय ध्यान रखें कि कोई दूसरा व्यक्ति आपका एटीएम कार्ड बदल न पाए। पैसा निकालने से पूर्व उस मशीन में स्क्रीमर व कैमरा आदि की जांच कर लें। अपने मोबाइल को किसी अनजान व्यक्ति को कदापि न दें, कभी-कभी गलत हाथों में मोबाइल जाने से उसके द्वारा पोर्ट का मैसेज भेजकर पोर्ट आउट नंबर प्राप्त कर लिया जाता है। इससे आपके नंबर का दूसरा सिम प्राप्त कर अवैध ट्रान्जेक्शन कर लिया जाता है। बैठक के दौरान जनपद के व्यापारी, सरार्फा व्यापारियों, बैंक मित्रो, बैंक माइक्रो फाइनेंसर और पुलिस के अधिकारी व कर्मचारी मौजूद रहें।