डीएम की अध्यक्षता में जिला स्वास्थ्य समिति की बैठक सम्पन्न

गोंडा। गुरुवार को डीएम मार्कण्डेय शाही की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में जिला स्वास्थ्य समिति की बैठक सम्पन्न हुई जिसमें डीएम द्वारा स्वास्थ्य विभाग के विभिन्न कार्यक्रमों की गहन समीक्षा तथा स्वास्थ्य कार्यक्रमों में फिसड्डी अधिकारियों की जवाबदेही तय करने के निर्देश मुख्य चिकित्साधिकारी को दिए। समीक्षा बैठक में डीएम ने नियमित टीकाकरण में खराब प्रगति तथा ड्यूलिस्ट अपडेट न करने पर सीएचसी नवाबगंज, कटरा बाजार, मसकनवा तथा बभनजोत के प्रभारी अधीक्षक को कारण बताओ नोटिस जारी करने के आदेश दिए हैं। वहीं सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र बेलसर पर तैनात पांच एएनएम द्वारा जॉइनिंग न देने तथा ड्यूटी पर न आने पर निलंबित करने के आदेश सीएमओ को दिए हैं। 

समिति की बैठक में डीएम ने यह भी आदेश दिए कि स्वास्थ्य विभाग के ऐसे अधिकारी-कर्मचारी जिन्होंने अब तक कोविड का टीका नहीं लगवाया है, उनका टीकाकरण अगले एक हफ्ते के अंदर करा दिया जाय तथा टीकाकरण न कराने वाले अधिकारियों-कर्मचारियों का वेतन रोक दिया जाय। बैठक में डीएम ने गोल्डन कार्ड, एचएमआईएस पोर्टल पर डाटा फीडिंग, संस्थागत प्रसव, आशा इंसेंटिव भुगतान, सैम और मैम बच्चों के अभिभावकों से संपर्क, अनटाइड फंड आदि की समीक्षा करते हुए निर्देश दिए कि आगामी 15 दिन के अंदर सभी स्वास्थ्य कार्यक्रमों की रैंकिंग में सुधार लाएं। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी शशांक त्रिपाठी, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर आर0एस0 केसरी, सहित सभी डाक्टर उपस्थित रहे ।