कैंसर-डायबिटीज जैसे रोगों से मिलेगी सुरक्षा ,सुबह के नाश्ते में खाएं पपीता

दुनियाभर में तमाम तरह के स्वास्थ्य लाभ प्राप्त करने के वर्षों से पपीते का सेवन किया जाता रहा है। अध्ययनों से पता चलता है कि पपीते में कई सारे ऐसे विटामिन्स और यौगिकों की मौजूदगी होती है जो शरीर को कई गंभीर रोगों से सुरक्षित रखने में सहायक हो सकती है। आहार विशेषज्ञ इस फल के सेवन को काफी फायदेमंद मानते हैं। पपीते में एंटीऑक्सिडेंट्स की मात्रा अधिक होती है जो कई प्रकार की गंभीर बीमारियों और संक्रमण से शरीर को सुरक्षित रखने में सहायक मानी जाती है।

कोरोना के इस दौर में जब लोग अपनी इम्यूनिटी को बढ़ाने की कोशिशों में लगे हुए हैं, ऐसे में इस फल का सेवन काफी लाभदायक हो सकता है। पपीते को विटामिन-सी का उत्कृष्ट स्रोत माना जाता है जो प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूती देने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकता है। इसके अलावा पेट को ठीक रखने, त्वचा की रंगत निखारने और अस्थमा जैसी क्रोनिक बीमारियों से सुरक्षा देने में भी पपीते के सेवन को काफी लाभदायक माना जाता है। पपीता खाने से शरीर को होने वाले ऐसे ही कुछ फायदों के बारे में जानते हैं। 

उम्र संबंधित परेशानियों में पपीते के फायदे

पपीते में कई प्रकार के विटामिन्स और पोषक तत्व पाए जाते हैं जो उम्र संबंधित समस्याओं को कम करने में मदद कर सकते हैं। पपीते में पाया जाने वाला एंटीऑक्सीडेंट जेक्सैंथिन, हानिकारक नीली प्रकाश किरणों को फ़िल्टर करता है। ऐसे में यह आंखों को स्वस्थ बनाए रखने में काफी फायदेमंद माना जाता है। इसके अलावा पपीते का सेवन करने से उम्र से संबंधित कई अन्य प्रकार की गंभीर समस्याओं के खतरे को कम किया जा सकता है।

डायबिटीज में फायदेमंद है पपीता

डायबिटीज के रोगियों के लिए अक्सर फलों का चयन करना काफी कठिन रहता है, पपीते का सेवन ऐसे लोगों के लिए अच्छा विकल्प हो सकता है। अध्ययनों से पता चला है कि टाइप-1 मधुमेह वाले लोगों को  उच्च फाइबर वाले आहार का सेवन करना चाहिए, इससे रक्त शर्करा का स्तर कम होता है। पपीते में फाइबर की अच्छी मात्रा पाई जाती है। इसका सेवन रक्त शर्करा, लिपिड और इंसुलिन के स्तर में सुधार करने में भी सहायक माना जाता है। 

कैंसर का खतरा हो सकता है कम

शोध से पता चलता है कि पपीते में मौजूद लाइकोपीन यौगिक, कैंसर के खतरे को कम कर सकता है। यह उन लोगों के लिए भी फायदेमंद माना जाता है जिनका कैंसर का इलाज चल रहा होता है। इसके अलावा पपीते में पाया जाने वाला एंटीऑक्सीडेंट बीटा-कैरोटीन, भी कैंसर के खतरे को कम कर सकता है। कैंसर एपिडेमियोलॉजी एंड प्रिवेंशन बायोमार्कर जर्नल में प्रकाशित एक अध्ययन के अनुसार बीटा-कैरोटीन से भरपूर आहार का सेवन करने से युवाओं को प्रोस्टेट कैंसर के खिलाफ सुरक्षा मिल सकती है।

हड्डियों को मिलती है मजबूती

पपीते को हड्डियों की सेहत बेहतर रखने में फायदेमंद माना जाता है। विशेषज्ञों के मुताबिक जिन लोगों में विटामिन-के की कमी होती है उनमें हड्डी टूटने का खतरा अधिक होता है। पपीते के सेवन से इस कमी को आसानी से पूरा किया जा सकता है। पपीते में विटामिन-के के साथ, कैल्शियम की भी अच्छी मात्रा पाई जाती है। यही कारण है कि हड्डियों को स्वस्थ और मजबूत बनाए रखने के लिए पपीते का सेवन करना काफी लाभदायक हो सकता है।