उड्डयन मंत्री ने ‘डिजी यात्रा’ के निरीक्षण के लिए दिल्ली हवाई अड्डे का दौरा किया

नई दिल्ली : नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने ‘डिजी यात्रा’ तंत्र की प्रगति का निरीक्षण करने के लिए बृहस्पतिवार को दिल्ली हवाई अड्डे का दौरा किया। ‘डिजी यात्रा’ एक ऐसा तंत्र है जिससे यात्री बायोमीट्रिक प्रौद्योगिकी का उपयोग कर हवाई अड्डा परिसर में प्रवेश कर सकते हैं।

मंत्री ने ट्विटर पर कहा कि दिल्ली हवाई अड्डे का दौरा किया और ‘डिजी यात्रा’ की प्रगति का जायजा लिया, जो यात्रियों के हवाई अड्डा परिसर में प्रवेश से लेकर विमान में सवार होने तक की प्रक्रिया को डिजिटलीकृत बनाने के लिए एक दूरंदेशी तंत्र है। उन्होंने कहा, यह डिजिटल इंडिया के प्रधानमंत्री के लक्ष्य को साकार करने की दिशा में एक मील का पत्थर होगा। नागरिक उड्डयन मंत्रालय के महत्वाकांक्षी मिशन को आकार लेते देखकर खुशी हुई।

‘डिजी यात्रा’ पहल का उद्देश्य कागज रहित और बाधा रहित हवाई यात्रा को बढ़ावा देने का है। यह हवाई अड्डे पर यात्रियों के प्रवेश और संबंधित आवश्यकताओं के लिए बायोमीट्रिक आधारित डिजिटल कार्य प्रणाली है। मंत्री ने कहा कि उन्होंने आज दिल्ली हवाई अड्डे के टर्मिनल-3 पर झारखंड से विदेश यात्रा कर रहे कुछ श्रमिकों से भी मुलाकात की। उन्होंने ट्वीट किया, हवाई अड्डे पर उनके (श्रमिकों) अनुभव और प्रतीक्षा समय के बारे में संक्षिप्त बातचीत की। यह (प्रतीक्षा समय) 10 घंटे होने के बारे में बताए जाने पर हवाई अड्डे के अधिकारियों से उन्हें भोजन उपलब्ध कराने और उनकी कुशलक्षेम सुनिश्चित करने का अनुरोध किया।