किसान जन जागरण पदयात्रा बिहार के चंपारण से चलकर पहुंचा जयप्रकाश नगर

बलिया।  किसान जन जागरण पदयात्रा बिहार के चंपारण से चलकर बनारस जाने के क्रम में रविवार  की देर शाम  लोक नायक  जयप्रकाश नरायण की धरती जयप्रकाश नगर ट्रस्ट पर पहुंची थी। जहां से किसानों का जत्था  जेपी की क्रांतिकारी धरती को नमन कर पुनः बैरिया होते हुये बलिया के लिये प्रस्थान किया। बैरिया पहुंचने पर किसानों से वार्ता के दौरान पूछने पर उन्होंने बताया कि देश मे तीन कानून के विरोध में एमएसपी के गारंटी के कानून के लिये देशभर के किसान पिछले नौ महीने से किसान मोर्चा के सामूहिक नेतृत्व में आंदोलित है। लेकिन सरकार की हठधर्मिता से किसानों की बात नही सुनी जा रही है। आम जनता द्वारा चुनी गयी सरकार का ऐसा रवैया लोक तंत्र के लिये ठीक नही है। किसानों ने बताया कि यह किसान यात्रा गांधी जयंती व लाल बहादुर शास्त्री जी की जयंती 2 अक्टूबर से चंपारण (बिहार) से चलकर पूर्वी चंपारण,गोपालगंज,सिवान,छपरा (बिहार),बलिया,गाजीपुर,बनारस लगभग 350किमी की यात्रा पूरी कर देश के प्रधानमंत्री जी के संसदीय क्षेत्र  में 20 अक्टूबर को पहुँचेगी।  इस मौके पर अक्षय कुमार राष्ट्रीय संयोजक, हिमांशु तिवारी पद यात्रा संयोजक,देव नंदा, उमाकांत भारत,निमई राय, मनवार अली,अमित नयन,राहुल शुक्ला, डॉ0 गुड्डू यादव,अंकित कुमार,अशोक कुमार भारत,दिनेश सिंह,शकुंतला गुरु,विलासिनी महंत सहित सैकड़ों की संख्या में महिलायें व पुरुष जय जवान जय किसान,वीर तुम बढ़े चलो,तीन काला कानून वापस हो का गगनभेदी नारा लगाते हुये बलिया की तरफ निकल गये। पद यात्रा में शामिल किसानों के जत्था का जज्बा देखकर क्षेत्र के चट्टी चौराहों पर गांव के किसानों ने उनके मांगो को जायज बताते हुये अपना समर्थन दिया।  क्षेत्रीय किसानों द्वारा जगह जगह फूल माला पहनाकर स्वागत किया गया।