ऑस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाज जेम्स पैटिनसन ने टेस्ट क्रिकेट से लिया संन्यास

ऑस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाज जेम्स पैटिनसन ने टेस्ट क्रिकेट से संन्यास लेने का ऐलान किया है। उन्होंने सबको हैरान करते हुए एशेज सीरीज से पहले संन्यास का ऐलान किया। जेम्स पैटिनसन अभी सिर्फ 31 साल के थे और रेड बॉल क्रिकेट में अच्छा प्रदर्शन कर रहे थे। उनके संन्यास लेने की मुख्य वजह घुटने की चोट है। । जेम्स पैटिनसन पिछले एक दशक में ऑस्ट्रेलिया के सर्वश्रेष्ठ तेज गेंदबाजों में से एक रहे हैं। उन्होंने अपने टेस्ट डेब्यू में 5 विकेट लेकर तहलका मचाया था। 

चोट की वजह से वो टीम में रेगुलर नहीं खेल कर पाए। पैट कमिंस, मिशेल स्टार्क और जोश हेजलवुड जैसे गेंदबाजों के उबरने की वजह भी उनके रेगुलर टेस्ट ना खेलने की प्रमुख वजह रही। जेम्स पैटिनसन ने ऑस्ट्रेलिया की तरफ से 21 टेस्ट मैच खेले। इन 21 टेस्ट मैचों में उन्होंने 81 विकेट लिए। इस दौरान उन्होंने 4 बार 5 विकेट लेने का कारनामा किया। उन्होंने इस बात की पुष्टि कर दी है कि वो आगे टेस्ट क्रिकेट नहीं खेलेंगे। उन्होंने ऑस्ट्रेलिया की तरफ से निचले क्रम में कुछ अच्छी पारियां खेली।

जेम्स पैटिनसन ने टेस्ट क्रिकेट के अलावा 15 वनडे और चार टी20 इंटरनेशनल मैच खेले। इन मैचों में  पैटिनसन  ने 16 ओर 3 विकेट लिए। उन्होंने क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया की वेबसाइट से हाल में कहा कि  जैसे जैसे आपकी उम्र बढ़ती है सबसे मुश्किल बात होती है कि आप क्रिकेट के और भी ज्यादा इंजॉय करना चाहते हो आप अपना पूरा ध्यान इस बात पर लगाते हो कि ऑस्ट्रेलिया के लिए क्रिकेट खेले लेकिन वो किसी ना किसी जगह पर आकर खत्म हो जाता है। पैटिंसन के टेस्ट क्रिकेट छोड़ने के बाद एशेज के लिए ऑस्ट्रेलिया की टीम में अब माइकल नेसेर, सीन एबॉट या किसी अन्य तेज गेंदबाज को जगह मिल सकती है।