नवरात्रि व्रत में नहीं होंगे बीमार, बस फॉलो करें ये टिप्स

शारदीय नवरात्रि में लोग 9 तो कुछ 2 दिन व्रत करते हैं लेकिन बदलते मौसम के कारण इस दौरान सेहत का ध्यान रखना भी बहुत जरूरी है। वहीं, जरा-सी भी लापरवाही के कारण डिहाइड्रेशन, चक्कर आना, जी मचलाना, घबराहट, एसिडिटी-कब्ज, पेट की दिक्कतें, सिरदर्द और थकावट जैसी समस्याएं हो सकती हैं। ऐसे में आज हम आपको कुछ टिप्स देंगे, जिन्हें फॉलो करके आप व्रत के दौरान हैल्थ प्रॉब्लम्स से बच सकते हैं। चलिए आपको बताते हैं कि नवरात्रि व्रत के दौरान किन बातों का रखें ध्यान...

खुद को हाइड्रेट रखें

अपने आप को हाइड्रेटेड रखने और अपने शरीर से विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालने के लिए अधिक से अधिक पानी पीएं।

हाई शुगर फूड्स को कहे ना

हाई शुगर फूड्स, आलू से बनी फ्राई, पूरियां, पकौड़े, आलू चिप्स, ज्यादा मसालेदार व तली भुनी चीजों से परहेज करें। रात को हल्का-फुल्का खाएं।

खाली पेट ना पीएं चाय

चाय पीनी हो तो खाली पेट से परहेज करें। इसकी बजाए नाश्ते के साथ चाल लें और इससे पहले 1-2 गिलास पानी पी लें।

हैवी वर्कआउट ना करें

व्रत के दौरान हैवी वर्कआउट करने की बजाए हल्की-फुल्की एक्सरसाइज करें। योग, मेडिटेशन, प्रणायाम, सैर करें। भोजन के बाद हल्की-फुल्की सैर जरूर करें।

ओवरईटिंग से बचें

व्रत तोड़ते समय बहुत से लोग अधिक खा लेते हैं, जिससे वजन बढ़ जाता है इसलिए व्रत खोलने के बाद ओवरईटिंग ना करें।

ना खाएं ये चीजें

डिब्बाबंद खाद्य पदार्थ, चिप्स, मिठाईयां, तला-भुना, लड्डू और अधिक खाना से परहेज रखें। साथ ही सभी तले हुए खाद्य पदार्थ जैसे कुट्टू पुरी या आलू चिप्स से बचें।

कैसे पकाएं खाना?

खाना पकाने के लिए भूनना, उबालना और भाप की विधि बेहतर है इसलिए इसी तरह भोजन पकाएं। ध्यान रखें कि बाहर का खाने से परहेज करें।

सही ऑप्शन चुनें

मिठाई और कार्बोनेटेड पेय पदार्थों को कम वसा वाले दूध की स्मूदी, फलों और फलों के रस से बदलें।