हाई ब्लड प्रेशर के मरीजों के लिए फायदेमंद होता है काजू

काजू एक तरह का ड्राई फ्रूट है, जो खाने में तो स्वादिष्ट लगता ही है साथ ही यह कई तरह की स्वास्थ्य समस्याओं को भी दूर रखने में मदद करता है। काजू का इस्तेमाल खीर, हलवा और बर्फी आदि बनाने में किया जाता है। स्वास्थ्य विशेषज्ञों के मुताबिक काजू में प्रोटीन, खनिज, आयरन, फाइबर, फोलेट, एंटीऑक्सीडेंट, मिनरल, विटामिन्स और कैल्शियम की अच्छी-खासी मात्रा होती है, जो ना सिर्फ ब्लड प्रेशर को काबू में रखता है बल्कि कोलेस्ट्रॉल लेवल को भी नियंत्रित रखने में मदद करता है। आइये जानते हैं काजू खाने के फायदे-

ब्लड प्रेशर को करे नियंत्रित: काजू की एक सर्विंग में लगभग 137 कैलोरी मौजूद होती है। अन्य ड्राई फ्रूट्स की तुलना में काजू में कैलोरी और फैट की मात्रा थोड़ी कम होती है। 2019 में किए गए एक अध्य्यन के मुताबिक काजू व्यक्ति में केवल 84% कैलोरी ही एब्जोर्व कर सकता है। ऐसे में काजू का सेवन करना हाई ब्लड प्रेशर के मरीजों के लिए फायदेमंद होता है। क्योंकि काजू बॉडी में ट्राइग्लिसराइड्स (एक प्रकार का फैट, जिससे हार्ट अटैक का खतरा बढ़ता है) के लेवल को कम करता है। आप चाहें तो रोस्टेड काजू को अपने नाश्ते में शामिल कर सकते हैं।

ब्लड शुगर लेवल: काजू ना सिर्फ हाई बीपी बल्कि डायबिटीज के मरीजों के लिए भी फायदेमंद है। टाइप-2 डायबिटीज के मरीज अपने खाने में काजू को शामिल कर सकते हैं। 2019 में इंटरनेशनल जर्नल ऑफ एंडोक्रिनोलॉजी एंड मेटाबॉलिज्म में छपे एक अध्ययन के अनुसार काजू का सेवन करने से शरीर इंसुलिन का स्तर बरकरार रहता है, जिससे रक्त शर्करा को काबू में रखने में मदद मिलती है।

कोलेस्ट्रॉल लेवल: एलडीएल, जिसे बैड कोलेस्ट्रॉल भी कहा जाता है, यह धमनियों में हानिकारक फैट को बिल्डअप करता है। इससे हार्ट अटैक का खतरा बढ़ता है। अमेरिकन जर्नल ऑफ क्लिनिकल न्यूट्रिशन में छपे एक लेख के मुताबिक काजू को अपनी डाइट में शामिल करने से बॉडी में बैड कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में मदद मिलती है। साथ ही यह शरीर गुड कोलेस्ट्रॉल को बढ़ावा देता है, जिससे दिल की बीमारी का खतरा कम हो जाता है। ऐसे में जिन लोगों का कोलेस्ट्रॉल बढ़ा हुआ है, वह अपनी डाइट में काजू को शामिल कर सकते हैं।