IND vs ENG: टीम इंडिया के सपोर्ट में आए पाक के पूर्व कप्तान इंजमाम उल हक

भारत और इंग्लैंड के बीच मैनचेस्टर टेस्ट कोरोना की भेंट चढ़ गया। पाकिस्तान के पूर्व कप्तान इंजमाम-उल-हक ने टीम इंडिया के पांचवे टेस्ट को रद्द करने के फैसले का समर्थन किया है। उन्होंने कहा कि कोराना के डर को देखते हुए भारतीय खेमे का ये फैसला सही था। पाचं टेस्ट मैचों की सीरीज में भारत 2-1 से आगे चल रहा था। लेकिन पांचवां और आखिरी टेस्ट निर्धारित समय से कुछ घंटे पहले रद्द कर दिया गया। 

इंजमाम ने अपने यूट्यूब चैनल में कहा,' यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि भारत और इंग्लैंड के बीच पांचवां टेस्ट कोविड के कारण आगे नहीं बढ़ सका। ये एक शानदार सीरीज थी। भारत अपने कोच और सपोर्टिंग स्टाफ के बिना चौथा टेस्ट खेल रही थी। लेकिन उन्होंने मैदान पर गजब का जज्बा दिखाया। अब यहां तक कि उनके फिजियो जो हाल के दिनों में उन्हें ट्रेनिंग दे रहे थे वो भी कोरोना पॉजिटिव हो गए। खिलाड़ी सही में आशंकित थे क्योंकि फिजियो उनके साथ ड्रेसिंग रूम साझा कर रहे थे और उन्हें ट्रेनिंग दे रहे थे।'

उन्होंने आगे कहा,' खिलाड़ियों का टेस्ट नेगेटिव आया है लेकिन अक्सर कोरोना के लक्षण दो से तीन दिनों के बाद दिखाई देते हैं। सपोटिंग स्टाफ के बिना खेलना बहुत मुश्किल है। जब आप चोटिल होते हैं या हल्की परेशानी का सामना कर रहे होते हैं तो आपको रिकवर करने के लिए एक ट्रेनर या फिजियो की जरूरत होती है। लोग सोच रहे होंगे कि भारत अपने सभी खिलाड़ियों के फिट होने के बावजूद क्यों हट गया। फिजियो और ट्रेनर महत्वपूर्ण हैं। इसलिए ये कहना गलत होगा कि भारत खिलाड़ियों के नेगेटिव रिपोर्ट आने के बावजूद पीछे हट गया।'