सरकारी लाभ (लाडली योजना) का रुपया देने के नाम पर लाखों की साइबर ठगी करने वाले अर्न्तराज्यीय गैंग के सदस्य बिहार राज्य से गिरफ्तार

आजमगढ़। दिनांक 10.09.2020 को वादी श्री सादिक असांरी निवासी मेहनाजपुर जनपद आजमगढ़ ने साइबर क्राइम थाना परिक्षेत्र आजमगढ़ में शिकायत दर्ज करायी कि साइबर ठगो ने मेरे मो0नं0 पर फोन करके कहां कि आपके यहां नरगिस को लडकी पैदा हुई हैं और लाडली योजना के तहत सरकार की तरफ से लडकी के खाते मे 6000 रु0 आयेगा । उसने मुझसे धोखे से मेरे पंजाब नेशनल बैंक की डिटेल एंव ओ0टी0पी प्राप्त कर कुल 2,50,000 रु0 निकाल लिए है । वादी के सूचना के आधार पर मु0अ0सं0 02/2020 धारा 419, 420 भादवि व 66 डी आई0टी0 एक्ट पंजीकृत किया गया।

उक्त अपराध के सफल अनवारण हेतु *साइबर क्राइम मुख्यालय लखनऊ एंव जनपद आजमगढ़ के उच्चाधिकारियो के निर्देशानुसार तकनीकी संसाधनो का प्रयोग करते हुए विवेचना के मध्य प्रभारी निरीक्षक साइबर क्राइम थाना परिक्षेत्र आजमगढ़ द्वारा अभिसूचना संकलन करके कार्यवाही प्रारम्भ की गयी तो उक्त अभियोग की विवेचना से अभियुक्त 1. सरजू मण्डल पुत्र दुखन मण्डल निवासी ग्राम बाराडीह थाना चकाई जिला जमुई बिहार 2. मो0 अफजल पुत्र मो0 अजमल निवासी ग्राम चकाई बाजार थाना चकाई जिला जमुई बिहार का नाम प्रकाश में आये जिनके द्वारा मिलकर साइबर ठगी की गयी ।

प्रकाश में आये अभियुक्तो की गिरफ्तारी हेतु श्रीमान् अपर पुलिस महानिदेशक, साइबर क्राइम मुख्यालय लखनऊ महोदय से बिहार प्रान्त जाने हेतु परमीशन प्राप्त कर साइबर क्राइम थाना टीम द्वारा दिनांक 07.09.2021 को समय 21.00 बजे अभियुक्त सरजू मण्डल पुत्र दुखन मण्डल निवासी ग्राम बाराडीह थाना चकाई जिला जमुई बिहार को उसके गांव बाराडीह से गिरफ्तार कर घटना में प्रयुक्त कालिंग मोबाईल को बरामद किया गया । गिरफ्तारी के बाद अभियुक्त को ट्रांजिट रिमाण्ड पर लाकर मा0 न्यायालय सी0जे0एम0 आजमगढ़ के समक्ष प्रस्तुत किया जा रहा हैं।

अपराध करने का तरिका

अभियुक्त सरजू मण्डल से गहनता से पूछतांछ किया गया तो बताया कि मै सरकार की लाडली योजना के नाम पर सरकारी वेबसाइट्सो से गांव की आशा का नम्बर निकालता हूं । उनसे लाडली योजना का अधिकारी बनकर उनके गांव जिनके यहां लडकी या लडका पैदा हुआ हैं उसकी डिटेल प्राप्त करता हॅु। उसके बाद उन लोगो को काल करके बोलता हूं कि आपका नम्बर आशा द्वारा दिया गया हैं आपके यहां लडकी पैदा हुई हैं और लाडली योजना के तहत सरकार की तरफ से लडकी के खाते मे 6000 रु0 आयेगा । फिर लोगो से धोखे से उनकी बैंक डिटेल, ओटीपी/यूपीआई के माघ्यम से साइबर ठगी को अंजाम देते हैं। इस तरह की साइबर ठगी के लिए साइबर थाना गिरीडीह झारखण्ड से भी मै जेल जा चुका हू ।