आम जन के लिए खास है मोदी का जन्मदिन

इस उम्र में देश के लिए उत्साह और शक्ति किसी नव युवक से भी अधिक दिखती है तभी तो देश ही नहीं बल्कि दुनियां के चहेते नेता के रूप में विद्यमान है | एक ऐसा व्यक्तित्व जिसने जाति-पात, धर्म - कर्म के भेदभाव को बड़े पैमाने पर तोड़ा है और हर तबके के लोगों का चहेता बना हुआ है | एक ऐसा व्यक्तित्व जिसने अपनी छवि आम जन के बीच नेता की नहीं बल्कि अपनेपन की बनायीं है | बेदाग छवि, प्रभावशाली और दूरदर्शी व्यक्तित्व जिसकी पक्ष और विपक्ष दोनों सराहना करते है | विपक्ष चुनाव हारने पर अफ़सोस जाहिर करता है कि उसके पास मोदी जैसे कोई नहीं है वही पक्ष हर चुनाव में उनके व्यक्तित्व को भुनाने में कामयाब हो जाता है | गणित के सारे प्रत्याशित समीकरण को तोड़ कर हर मोर्चे पर आम जन के विशवास को चुनावी जीत दर्ज कराके और अधिक मजबूत बनाते है | दुनियाभर में योग की पहुँच में महत्वपूर्ण भूमिका निभा कर भारत का सम्मान इन्ही के नेतृत्व में प्राप्त हुआ है | आज देश के प्रधानमंत्री मोदी जी का 71 वां जन्म दिन है इनका जीवन और जीवन के संघर्ष सभी के लिए प्रेरणा देने वाले है | न केवल भारतीय जनता पार्टी बल्कि वैश्विक स्तर पर लोग आज इनका जन्मदिन बड़ी धूमधाम से मना रहें है | 

कुछ लोग उन्हें प्यार से चायवाला कहते है, कुछ लोग चौकीदार कहते है, कुछ लोग नमो कहते है और कुछ लोग मोदी जी कहते है पर उन्हें हमेशा इस बात पर गर्व रहता है की वो देश के बेटे है जो गरीबों के उत्थान के साथ- साथ देश के विकास के लिए अनवरत बिना रुके, बिना थके कार्य कर रहें है | ये देश के ऐसे पहले प्रधानमंत्री है जो सीधे आम जनता से मन की बात करते है | शायद ही कोई ऐसा विषय हो जो सीधे गरीब तबके के लोगों से जुड़ा हो और उस पर उन्होंने कार्य न किया हो, नीतियाँ न बनायीं हो या फिर भविष्य की योजनाओं में महत्वपूर्ण स्थान में न रखा हो | एक ऐसा व्यक्तित्व जिसमें हर तबके के लोग अपने आप का प्रतिबिम्ब देखते है और दिल से जुड़ा हुआ महसूस करते है | आप देश के किसी भी कोने में हो आपके लिए उनकी योजनायें जीवनदायनी और लाभ पहुचाने वाली है | फिर चाहे बात उज्ज्वला योजना की हो, आवास की हो, स्वास्थ्य कार्ड की हो, राशन कार्ड की हो, शिक्षा या फिर आत्मनिर्भर योजनाओं की हो | 

जो लोग सामाजिक मंच पर तारीफ नहीं भी करना चाहते वो आन्तरिक मन में जरुर सराहना करते है क्योंकि दशकों से देश की बड़ी समस्याओं के अंत करने और कठोरतम निर्णय सिर्फ इसी शख्स की वजह से आज संभव हो पाया है |  राजनीति के वास्तविक अनुभव से परिपक्व, दूरगामी दृष्टि और व्यावहारिक ज्ञान से परिपूर्ण राजनीति के ऐसे पहले व्यक्तित्व है जो न केवल राष्ट्रीय बल्कि अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर लोगों के लिए प्रेरणा श्रोत है | देश को परम्परागत कार्य प्रणाली से बाहर निकालकर आधुनिक और आत्मनिर्भर सिस्टम से सीधे जोड़ने का श्रेय इन्हें ही है | वैश्विक स्तर पर ख्याति को इसी से समझा जा सकता है की - सऊदी अरब ने स्पेशल क्लास, सऊदी अरब के सर्वोच्च सम्मान गैर मुस्लिम गणमान्य व्यक्ति के रूप में सम्मानित किया है | अफगानिस्तान ने सर्वोच्च नागरिक सम्मान से सम्मानित किया है | फिलिस्तीन ने सर्वोच्च नागरिक सम्मान से सम्मानित किया है | सयुंक्त अरब अमीरात ने सर्वोच्च नागरिक सम्मान से सम्मानित किया है | रूस ने सर्वोच्च नागरिक सम्मान से सम्मानित किया है | मालदीव ने सर्वोच्च सम्मान विदेशी गणमान्य व्यक्ति के रूप में सम्मानित किया है | बहरीन ने सर्वोच्च सम्मान प्रथम श्रेणी विदेशी गणमान्य व्यक्ति के रूप में दिया है | सयुंक्त राज्य अमेरिका ने चीफ कमांडर, लीजन ऑफ़ मेरीटो की सर्वोच्च डिग्री से सम्मानित किया है | यूनाइटेड नेशन ने पर्यावरण नेतृत्व के लिए चैंपियंस ऑफ़ द अर्थ के सम्मान से सम्मानित किया है | शांति और सद्भावना में योगदान के लिए दक्षिण कोरिया ने सियोल शांति सम्मान से सम्मानित किया है | वैश्विक नेतृत्व के लिए बिल एंड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन ने वैश्विक गोलकीपर सम्मान से सम्मानित किया है | CNN-NEWS 18 ने विभिन्न सम्बंधित क्षेत्रो में योगदान के लिए इंडियन ऑफ़ द इयर के सम्मान से सम्मानित किया है | यह स्वयं में वैश्विक लोकप्रियता का सार्थक और सटीक प्रमाण है जो दुर्लभ व्यक्तियों को ही प्राप्त होता है |

देश का पहला ऐसा व्यक्तित्व जिन्हने न केवल यह सुनिश्चित किया है की देश में कोई भी आतंकी हमला न हो बल्कि पड़ोसी देशों समेत विश्व को भी भारत की अपनी शक्ति का एहसास कराया है | अक्सर आम जन अपनी समस्याओं का समाधान न प्राप्त होने पर यह कहते पाए जाते है की प्रधान मंत्री जी से शिकायत करूँगा | यानि की आम जन भी अपने आपको प्रधानमंत्री के करीब महसूस करता है | ग्रामीण भ्रमण के पश्चात् अनेकों विशेषज्ञों ने इस बात की पुष्टि की है कि अधिकांश जनता वोट करने सिर्फ मोदी के नाम पर जाती जबकि अभी भी बहुत से लोगों को विभिन्न चुनावों में अंतर नहीं पता है | जब मोदी शांत होते है तो कई ऐसी बड़ी रणनीति बनाने में लगे होते है जिसकी घोषणा से पक्ष – विपक्ष दोनों को आश्चर्यचकित कर देते है | कश्मीर की घोषणा उनमे से एक है | 

शब्दों का चयन, हर तबके के लोगों का ध्यान, जमीनी आवश्यकताओं की पूर्ति की प्राथमिकता, प्रभावशाली वाणी, तेज से परिपूर्ण व्यक्तित्व, कठीन कार्य करने की क्षमता, योजनावों का प्रभावशाली क्रियान्यवन, जनता से सीधे संवाद, बेदाग छवि, इतिहास के सभी राजनीतिज्ञों से न केवल इन्हें अलग करती है बल्कि देश हित में किये जा रहे कार्यो की वजह से इन्हें शिखर पर भी रखती है | एक ऐसा व्यक्तित्व जिनके कन्धों पर दशकों की अकर्मणता, लापरवाही, लूट, भ्रष्टाचार, गरीबी, घाटे की अर्थव्यवस्था, बेरोजगारी, चरमराती स्वास्थ्य सेवाए और अनसुलझी विदेशी नीति को सम्हालने का दारोमदार 2014 और अपेक्षित प्रगति देखकर पुनः 2019 में जनता ने दिया और तब से लेकर अब तक के सफर में किये जा रहें कार्यों की वजह से जनता का अटूट विश्वास मोदी में विद्यमान है जो दिन प्रतिदिन और अधिक मजबूत हो रहा है |

कई लोग उक्त बातों से असहमत हो सकते और उनके कई तर्क इसके विपक्ष में भी हो सकते है | पर किसी नेतृत्व का मूल्यांकन जब तक राजनैतिक चश्मे से किया जाता है तब तक सच्चे परिणाम की उम्मीद नहीं की जा सकती | मोदी के नेतृत्व का मूल्यांकन राजनैतिक चश्मे को हटाकर आम जनता के हितों की प्राथमिकता के आधार पर करने पर सही निर्णय पर आसानी से पहुंचा जा सकता है और वह निर्णय आपको यह कहने पर जरुर विवश करेगा एक सफल वक्ता, नेतृत्व करता और सर्व स्वीकार्य व्यक्तित्व है मोदी | तभी तो उनके चाहने वाले कहते है “मोदी है तो मुमकिन है” “हर - हर मोदी घर - घर मोदी” | मोदी जी के इस जन्मदिन पर आम जनता प्रार्थना कर रही है की देश के सबसे अधिक लोकप्रिय नेता स्वस्थ्य रहें और देश हित, आम जन हित में बड़े निर्णय लेकर देश और आम आदमी के जीवन का कायाकल्प करते रहें | जिससे आम आदमी की उन्नति के साथ - साथ देश का भी विकास होता रहें |

 डॉ. अजय कुमार मिश्रा

drajaykrmishra@gmail.com