छात्रवृत्ति घोटाला: एसआईटी ने कसा शिकंजा


 जिले के पांच ब्लॉक जसपुर, काशीपुर, बाजपुर, गदरपुर, रुद्रपुर, किच्छा, सितारगंज, नानकमत्ता और खटीमा के 35 शैक्षिक संस्थानों में छात्रवृत्ति लेकर अध्ययन करने वाले ओबीसी के 1500 से अधिक छात्रों के दस्तावेज दे दिए हैं ओबीसी के छात्रों की जांच करनी शुरू कर दी है। एसआईटी ने जिला समाज कल्याण विभाग से शैक्षिक संस्थानों के साथ ही एससी, एसटी और ओबीसी के लाभार्थियों के दस्तावेज मांगे थे। इस पर जिला समाज कल्याण विभाग एसआईटी को 169 शैक्षिक संस्थान और उनमें अध्ययनरत छात्रों की सूची दे चुका है।

जिसके आधार पर एसआईटी जांच कर रही है। एसआईटी ने इसके लिए कई बार रिमाइंडर भेजकर दस्तावेज उपलब्ध कराने के लिए कहा था। जिसके बाद एसआईटी को जिला समाज कल्याण विभाग ने ओबीसी के छात्रों की सूची दे दी। जबकि कई और कालेजों के दस्तावेज नहीं मिले थे। एसपी सिटी ममता बोहरा ने बताया कि ओबीसी के दस्तावेज मिले हैं। एससी, एसटी के साथ ही एसआईटी टीम ओबीसी के लाभार्थियों से पूछताछ में जुटी हुई है।