खेल मंत्रालय की तरफ से हुआ दौड़ का कार्यक्रम

 दुल्लहपुर (गाजीपुर) : देश की आजादी में देश के स्वतंत्रता सेनानियों के योगदान को कभी भुलाया नहीं जा सकता । आजादी के 75 वर्ष होने के उपलक्ष्य में क्षेत्र के स्वामी सहजानंद सरस्वती के जन्मस्थली देवा गांव मे युवा कार्यक्रम एवं खेल मंत्रालय के तरफ से नेहरू युवा केंद्र गाज़ीपुर एवं विकास खंड जखनियां के तत्वाधान में गुरुवार को अमृत महोत्सव आजादी की दौड़ के तहत  कार्यक्रम का आयोजन किया गया।  इस कार्यक्रम में नेहरू युवा केंद्र के पदाधिकारियों एवं उच्च प्राथमिक विद्यालय देवा के छात्रों ने हिस्सा लिया। सबसे पहले स्वामी सहजानंद सरस्वती स्मारक देवा पहुंचकर वहां उन्हें नमन किया गया तत्पश्चात रैली निकाली गई। ग्राम प्रधान सुनीता चौरसिया ने रैली को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया।जो पूरे गांव का भ्रमण करते हुए दुल्लहपुर रेलवे स्टेशन स्थित स्वामी सहजानंद सरस्वती के प्रतिमा तक गई। जहां से उच्च प्राथमिक विद्यालय देवा पर पहुंचकर रैली विचार गोष्ठी में परिवर्तित हो गई। गोष्ठ को संबोधित संबोधित करते हुए एस आई केशव यादव ने   मिशन शक्ति के तहत उपलब्ध कराए गए नंबरों के बारे में विस्तार से समझाया । महिला कांस्टेबल संध्या गुप्ता ने भी बच्चों को उनके अधिकार के बारे में जानकारी दी। इस अवसरपर एस के सिंह चिकित्साधिकारी जखनिया को नेहरू युवा केंद्र  गाज़ीपुर के  वालंटियर शिवम विश्वकर्मा एवं  ग्राम प्रधान प्रतिनिधि दीपक चौरसिया ने स्वामी सहजानंद का स्मृति पत्र देकर सम्मानित किया।  कार्यक्रम में जयप्रकाश राम सहायक अध्यापक,श्रीमती सुमन, श्री सतीश चंद शर्मा, परमानंद चौहान,कपिल देव मौर्य,श्रीमती मिथिलेश यादव, राकेश कुमार गौतम,श्रीमती सुषमा चौहान, धर्मेंद्र यादव,शमशाद अंसारी, कैलाश जायसवाल आदि उपस्थित रहे।