जड़ से खत्म हो जाएगी डायबिटीज, इन तरीकों से खाएं त्रिफला

डायबिटीज की बीमारी आजकल बहुत आम हो गई है लेकिन इसे हल्के में लेना सेहत पर भारी पड़ सकता है क्योंकि अनकंट्रोल ना सिर्फ आंखों की रोशनी छीन सकती है बल्कि इससे किडनी, लिवर व दिल पर भी बुरा असर पड़ता है। बहुत से लोग शुगर लेवल कंट्रोल करने के लिए दवाओं का सेवन करते हैं लेकिन घरेलू नुस्खे भी शुगर कंट्रोल करने में काफी कारगार हैं। यहां हम आपको त्रिफला से डायबिटीज कंट्रोल करने का तरीका बताएंगे।

डायबिटीज के लिए क्यों फायदेमंद है त्रिफला?

डायबिटीज कंट्रोल करने के लिए आप औषधीय गुणों से भरपूर त्रिफला को आप 3 तरह से ले सकते हैं। दरअसल, इसे बनाने के लिए काली हरड़, बहेड़ा और आंवला का इस्तेमाल किया जाता है, जो डायबिटीज मरीजों के लिए अलग-अलग तरह से फायदेमंद है। जहां हरड़ व बहेड़ा पाचन एंजाइमों को रेगुलेट करता है वहीं आंवला ब्लड शुगर को कंट्रोल करता है।

डायबिटीज कंट्रोल करने के लिए जानिए त्रिफला लेने का तरीका

सुबह पिएं त्रिफला का काढ़ा

सिर्फ डायबिटीज मरीज ही नहीं बल्कि कोई भी त्रिफला का काढ़ा पी सकता है। यह शुगर कंट्रोल करने के साथ ब्लड सर्कुलेशन बढ़ाता है और खून के थक्के बनने की संभावना भी घटाता है।

कैसे बनाएं?

लोहे के बर्तन में 1 कप डालकर उसमें त्रिफला रातभर के लिए भिगो दें। सुबह त्रिफला को निकालकर पानी में शहद मिलाएं। खाली पेट इस काढ़े का सेवन करें।

दोपहर में छाछ के साथ लें

1 गिलास छाछ में त्रिफला मिलाकर पीने से शुगर भी कंट्रोल होगा और पेट भी साफ रहेगा। साथ ही इससे एसिडिटी, कब्ज और अपच जैसी समस्याएं दूर होगी। इससे वजन भी कंट्रोल होगा क्योंकि यह ड्रिंक मेटाबॉलिज्म को बढ़ावा देती है।

रात में देसी घी के साथ करें सेवन

1 चम्मच देसी घी में थोड़ा-सा त्रिफला चूर्ण बनाकर गुनगुने पानी के साथ लें। यह पेट और आंतों की सफाई करता है और ब्लड सर्कुलेशन बढ़ाता है। इससे खून में ग्लूकोज का स्तर कंट्रोल होता है, जो डायबिटीज मरीजों के लिए फायदेमंद है। साथ ही इससे टाअप-2 डायबिटीज का खतरा भी कम होता है।

डायबिटीज में त्रिफला के फायदे

. त्रिफाल पेनक्रियाज को उत्तेजित करता है और इंसुलिन प्रोडक्शन बढ़ाता है। इससे खून में शुगर की मात्रा कंट्रोल होती है।

. त्रिफला के कुछ यौगिक ग्लूकोज को फैट में बदले बिना भोजन पचाने में मदद करते हैं। इससे डायबिटीज कंट्रोल होती है।

. इससे कोलेस्ट्रॉल कंट्रोल होती है, जिससे डायबिटीज मरीज हार्ट डिसीज व हार्ट अटैक के खतरे से बचे रहते हैं।

. डायबिटीज मरीजों में वजन भी तेजी से बढ़ता है लेकिन त्रिफला छाछ पीने से शरीर में फैट की मात्रा कम होती है।

. कब्ज के कारण भी शरीर में शुगर लेवल बढ़ा रहता है लेकिन त्रिफला का सेवन कब्ज दूर करने के साथ पेट की सफाई भी करता है।

डायबिटीज कंट्रोल करने के लिए कुछ जरूरी बातेंः

-दिनभर में कम से कम 9-10 गिलास पानी पीएं।

-जंक फूड्स से दूर रहें और हैल्दी चीजें खाएं।

-वजन को कंट्रोल में रखें और तनाव से दूर रहें।

-फिजिकल एक्टिविटी जरूर करें।

-धूम्रपान, तंबाकू आदि का सेवन ना करें।

posted by - दीपिका पाठक