दरोगा को महंगा पड़ा वर्दी का रोब दिखाना, छात्रों ने दरोगा के करतूत को किया वायरल

आजमगढ़ : खाकी की धौंस और रौब पर छात्रों का रोष भारी पड़ गया, दारोगा जी उसके बाद किस तरह भागे यह पूरी दास्‍तान वायरल वीडियो में कैद हो गई। आधा दर्जन से अधिक छात्रों ने दारोगा की गुंडई को अपने मोबाइल में कैद करके वायरल कर दिया तो खाकी की खुद की आपराधिक छवि भी सामने आ गई।

बस परिचालक को बेवजह पीटते देखकर छात्रों का विरोध शुरू हो गया और रौब दिखाने वाले दारोगा मौके से अपनी इज्‍जत बचाते हुए भाग निकले। वायरल वीडियो के अनुसार तहबरपुर थाने से दूर मोती बाबा मंदिर के पास की घटना है।

तहबरपुर थाना क्षेत्र में सोमवार की सुबह एक दरोगा को खाकी की हनक दिखाना उस समय भारी पड़ गया, जब बस में सवार छात्रों ने उन्हें घेर लिया। मामला थाने से कुुछ दूर मोती बाबा मंदिर के पास का है, जहां दारोगा ने प्राइवेट बस के परिचालक को पीट दिया था। इसका वीडियो किसी छात्र ने इंटरनेट मीडिया पर वायरल किया तो खाकी पर सवाल खड़ा होने लगे।

दारोगा ने बस को रोककर परिचालक से अपना कुछ सामान बरदह पहुंचाने को कहा। परिचालक ने किराया मांग लिया तो दारोगा भड़क गए और परिचालक को चार- छह थप्पड़ जड़ दिया। यह देख इस पर बस में सवार छात्र भड़क गए और दारोगा को घेर लिया। मोबाइल ऑन कर भाड़ा नहीं देने और परिचालक को पीटने का कारण पूछने लगे। पहले तो दारोगा ने अकड़ दिखाई, लेकिन छात्रों के समूह को देख ठंडे पड़ गए। वह मौके से खिसकने का प्रयास करते रहे, लेकिन छात्रों ने काफी देर तक घेरे रखा। छात्र मोबाइल कैमरे को आन कर परिचालक को पीटने और भाड़ा न देने का कारण पूछ रहे थे। दारोगा खुद बगैर हेलमेट और बिना नंबर प्लेट की बाइक से सवारी कर रहे थे। इस बाबत छात्रों ने सवाल दागा तो जवाब देते नहीं बना। उस समय प्राइवेट बस कंधरापुर से तहबरपुर होते हुए इलाहाबाद जा रही थी। एसपी सुधीर कुमार सिंह ने मामले की जांच सीओ बूढ़नपुर को सौंपी है।