पुरानी पेंशन बहाली के लिए मोमबत्ती जलाकर आवाज़ उठाएंगे कर्मचारी

सहारनपुर। उत्तर प्रदेश राज्य कर्मचारी महासंघ के ज़िला अर्जुन सिंह त्यागी ने विकास भवन में महासंघ के पदाधिकारियों व सदस्यों के साथ बैठक में ये निर्णय लिया गया कि लखनऊ प्रांतीय अध्यक्ष कमलेश मिश्रा के आह्वान पर पुरानी पेंशन बहाली की मांग को लेकर महासंघ के पदाधिकारी व सदस्य मोमबत्तियां जलाकर आवाज बुलंद करेंगे। 4 व 5 अक्तूबर सायं को राज्य कर्मचारी अपने-अपने आवास,भवन पर मोमबत्ती जलाकर पुरानी पेंशन व्यवस्था लागू करने की मांग करेंगे और सरकार का ध्यान आकर्षित करेंगे। और बताया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जब गोरखपुर सांसद थे तब उन्होंने तत्कालीन प्रधानमंत्री डा० मनमोहन सिंह को पत्र लिखकर पुरानी पेंशन व्यवस्था बहाल करने का अनुरोध किया था। अब वह स्वयं मुख्यमंत्री हैं  प्रदेश के कर्मचारियों की पुरानी पेंशन बहाल कराएं। मुख्यमंत्री आसीन होने के उपरांत उत्तर प्रदेश राज्य कर्मचारी महासंघ में दिनांक 19 फरवरी 2020 इको गार्डन लखनऊ में वादा निभाओ रैली के माध्यम से ज्ञापन प्रस्तुत किया था। वर्ष 2019-20 में कोविड-19 महामारी में जन सेवा में व्यवस्था के कारण कोई कार्यवाही नहीं हो पाई। प्रदेश कार्य समिति की आयोजित बैठक में निर्णय लिया गया कि दिनांक 4 व 5 अक्टूबर सायरू को राज्य कर्मचारी अपने आवास पर एक पोस्टर लगाकर उसके सामने 5-5 मोमबत्ती जलाएंगे। जिस पर लिखा होगा मा० योगी आदित्यनाथ जी कर्मचारियों को दिनांक 21 मई 2013 को किया गया वादा पूरा करें और पुरानी पेंशन व्यवस्था बहाल करें। इस अवसर पर दानिश सिद्दीकी ज़िला मंत्री ने कहा कि सभी महासंघ व संघ से जुड़े पदाधिकारी व सदस्य 4 व 5 सितंबर को अपने-आवास पर 5-5 मोमबत्तियां जला कर प्रदेश सरकार का ध्यान आकर्षित कर पुरानी पेंशन व्यवस्था को बहाल करवाने का अनुरोध किया। विनोद कुमार शर्मा उ.प्र.ग्राम्य विकास मिनिस्ट्रीयल एसोसिएशन व राजेन्द्र त्यागी महामंत्री ने सभी पदाधिकारी पुरानी पेंशन बहाली के लिए 5-5 मोमबत्तियां जला कर मुख्यमंत्री का ध्यान आकर्षित करने की अपील की। इस दौरान अनिल नरुला,संजय गौतम,सलीम कौसर,तरुण राठौर,सूर्यकान्त,संगीता,विकास कुमार, हिमांशु, अश्विनी कुमार आदि महासंघ पदाधिकारी व सदस्यगण मौजूद रहे।