राजकीय बाल सम्प्रेषण गृह का किया आकस्मिक निरीक्षण

मऊ जनपद में माननीय उ0प्र0 राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण, लखनऊ के निर्देशानुसार माननीय शंकर लाल, अध्यक्ष/जनपद न्यायाधीश जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, मऊ के मार्गदर्शन में आज दिनांक 15.09.201 को सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, मऊ एवं जिला प्रोबेशन अधिकारी श्री समर बहादूर सरोज द्वारा  राजकीय बाल सम्प्रेक्षण गृह का सयुक्त अकास्मिक निरीक्षण किया गया।

निरीक्षण के दौरान केयरटेकर, अशोक मिश्रा से सम्प्रेक्षण गृह में रह रहे किशोरों के बावत जानकारी प्राप्त की गयी, केयर टेकर द्वारा बताया गया कि किशोरों को नास्ता एवं भोजन सप्ताहिक निर्धारित सारणी के अनुरुप दिया जाता है। निरीक्षण के दौरान संम्प्रेक्षण गृह के भोजनालय, मनोरंजन गृह प्रसाधन इत्यादि में साफ-सफाई संतोषजनक पायी गयी। इस दौरान मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना एवं कोविड-19 को दृष्टिगत रखते हुए विधिक जागरुकता शिविर का आयोजन किया गया तथा केयर टेकर को निर्देशित किया गया कि बाल सम्प्रेक्षण गृह मे रह रहे ।

किशोरों को पर्याप्त मात्रा में मास्क, सैनेटाइजर, उपलब्ध करावें तथा सोशल डिस्टेंसिंग का अनुपालन सुनिश्चित करें। निरीक्षण के दौरान केयर टेकर को यह भी निर्देशित किया गया कि  ऐसे किशोर जिनके पास अधिवक्ता नही है, को निःशुल्क अधिवक्ता प्रदान करने हेतु जिला विधिक सेवा प्राधिकरण में प्रार्थना-पत्र प्रेषित करना सुनिश्चित करेें। निरीक्षण के दौरान बाल सम्प्रेक्षण गृह में विभिन्न जनपदों के कुल 112 किशोर निरुद्ध है। जिनमें जनपद मऊ के 31, बलिया -31 आजमगढ-48 व अन्य जनपदों के 02 किशोर है।