मायावती और ओवैसी पर हिन्दू महासभा ने साधा निशाना, हिन्दू समाज को कमजोर कर रही जातिवाद की राजनीति

लखनऊ। अखिल भारत हिन्दू महासभा ने आज यहां विभिन्न राजनैतिक दलों पर जातिवाद की आड़ में हिन्दु समाज को कमजोर करने का आरोप लगाते हुये प्रदेश अध्यक्ष ऋषि त्रिवेदी ने मायावती और ओवैसी पर निशाना साधा और कहा कि हिन्दू महासभा ही देश की एकमात्र ऐसी पार्टी है जो जातिवाद से ऊपर उठकर हिन्दूसमाज को जोड़ने की राजनीति करती है। श्री त्रिवेदी ने आज यहां बहुजन समाज पार्टी के प्रबुद्ध सम्मेलन और अयोध्या में ओवैसी के कार्यक्रम पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुये कहा कि आगामी विधानसभा चुनाव में सभी प्रमुख राजनैतिक दल विभिन्न जातियों की आबादी का प्रतिषत समझाकर हिन्दु समाज को तोड़ने को तरीका समझा रहे है। जात पात की करो की विदाई, हिन्दू हिन्दू भाई भाई के नारे के साथ हिन्दुत्व की राजनीति करने वाली अखिल भारत हिन्दू महासभा के नेता श्री त्रिवेदी ने कहा कि हिन्दु समाज को ओवैसी के बयानों को देख कर समझ जाना चाहिए कि वह सिर्फ देश में एक और इस्लामिक राष्ट्र का सपना देख रहे है, तभी वह आज अयोध्या में मुस्लिमों और हिन्दुओं को विभिन्न जातियों की अलग-अलग आबादी की परिभाषा समझा कर चुनाव जीतने का गुणा-भाग समझा रहे थे। वहीं दूसरी ओर कभी सवर्ण समाज के लिये तिलक तराजू तलवार और इनके मारो जूते चार का नारा लगाने वाली बसपा सुप्रीमो मायावती आज लखनऊ में बसपा के प्रबुद्ध सम्मेलन में ब्राहाम्णों पर वोट के लिये डोरे डालने का काम कर रही थी, जो उनका यह सपना कभी पूरा नहीं होने वाला है।