कैबिनेट मंत्री-पूर्व सीएम त्रिवेंद्र के बीच जुबानी जंग


कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत के बीच चल रही जुबानी जंग में एक बार फिर शोले भड़क उठे। हरक सिंह ने बीते दिनों आए त्रिवेंद्र के बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि जिनके घर कांच के होते हैं, उन्हें दूसरों के घरों पर पत्थर नहीं फेंकने चाहिए। हरक सिंह, त्रिवेंद्र की टिप्पणी पर सीधे कुछ कहने से परहेज करते नजर आए। इस दौरान उन्होंने कहा कि जिसका जितना ज्ञान होता है वो उसी तरह की बातें करता है। हरक ने कहा कि त्रिवेंद्र उनसे बड़े हैं, उनकी बातों को वो आशीर्वाद के तौर पर ही लेते हैं।

हरीश रावत के साथ उनकी खूब लड़ाई रही, पर उन्होंने भी कभी बिलो दि बेल्ट रह कर काम नहीं किया। राजनेता क्या सामान्य व्यक्ति भी इस तरह की टिप्पणी नहीं करता। साथ ही यह भी जोड़ा कि जिनके घर कांच के होते हैं उन्हें दूसरों के घरों पर पत्थर नहीं फेंकने चाहिए। अंत में हरक बोले कि उन्हें अब इस विषय पर कोई टिप्पणी नहीं करनी है, बाकी जिसे जो कहना है, कहता रहे। उत्तराखंड की जनता सबकुछ जानती है।

 शुक्रवार को देहरादून में भाजपा के चुनाव प्रभारी भी मौजूद थे, माना जा रहा है कि पार्टी ने हरक सिंह को इस विषय पर धैर्य बरतने की सलाह दी है। बावजूद इसके उन्होंने सधे हुए शब्दों में अपनी बात सार्वजनिक तौर पर रख ही दी है।