दिल्ली में टीकाकरण का रिकॉर्ड, पिछले दस दिन में 16 लाख लोगों ने लगवाई वैक्सीन

राजधानी में रिकॉर्ड स्तर पर टीकाकरण हो रहा है। पिछले दस दिन में करीब 14 लाख वैक्सीन लगाई जा चुकी है। प्रतिदिन 1.50 लाख लोगों का टीकाकरण हो रहा है। अब तक कुल एक करोड़ 50 लाख लोगों को वैक्सीन लगाई जा चुकी है। इनमें 72 फीसदी को पहली वैक्सीन लगी है। 

स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक, अब तक एक करोड़ छह लाख लोगों को पहली और 44 लाख को दूसरी खुराक लग गई है। टीका लेने वालों में सबसे अधिक संख्या युवाओं की है। करीब 75 फीसदी युवाओं को वैक्सीन की कम से कम एक डोज लग चुकी है। इसके बाद 44 साल से अधिक उम्र के लोगों की संख्या है। 11 दिन पहले कुल टीकाकरण की संख्या एक करोड़ 34 लाख थी जो अब बढ़कर एक करोड़ 50 लाख हो गई है। 

जिलावार टीकाकरण की बात करें तो इसमें उत्तर-पश्चिमी जिला टीकाकरण में अव्वल है। यहां 12 लाख 96 हजार से ज्यादा लोगों को टीके की पहली और पांच लाख से ज्यादा लोगों को टीके की दूसरी डोज लग चुकी है। वहीं, उत्तर-पूर्वी जिला में टीकाकरण काफी कम हुआ है।  यहां मात्र छह लाख 75 हजार से ज्यादा लोगों को टीके की पहली और दो लाख 17 हजार से ज्यादा लोगों को टीके की दूसरी डोज लगी है। 

विभाग के मुताबिक, वैक्सीन की आपूर्ति अगर इसी प्रकार होती रही तो अगले दो माह के भीतर सभी लोगों का पूर्ण टीकाकरण हो जाएगा। टीकाकरण के विषय में विशेषज्ञों का कहना है कि कोरोना की तीसरी लहर आने की आशंका को देखते हुए अधिक से अधिक लोगों का टीकाकरण जरूरी है। दिल्ली में जिस प्रकार से वैक्सीन लग रही है। वह गति काफी अच्छी है। करीब 72 फीसदी लोगों को पहली खुराक लगी है। इससे अगली लहर का खतरे को कम किया जा सकेगा।