IND vs ENG: टेस्ट क्रिकेट के लिए विराट कोहली का पैशन देख बोले केविन पीटरसन

कहा जाता है कि एक खिलाड़ी की असली पहचान क्रिकेट के सबसे लंबे फॉर्मेट में उसके प्रदर्शन के दम पर की जाती है। टेस्ट क्रिकेट में कामयाबी एक क्रिकेटर को महान बनाती है और उसी से उसके खेल और धैर्य का पता लगता है। टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली वनडे और टी-20 फॉर्मेट की तरह ही टेस्ट क्रिकेट में भी अपनी पूरी जान झोंकते हैं और हर समय मैदान पर आक्रामक नजर आते हैं। टेस्ट क्रिकेट के प्रति कोहली का यह पैशन देख इंग्लैंड के पूर्व बल्लेबाज केविन पीटरसन उनके फैन हो गए हैं। उन्होंने कहा कि भारतीय कप्तान के लिए टेस्ट क्रिकेट अब भी सबकुछ है और उनके हीरो सचिन तेंदुलकर और राहुल द्रविड़ जैसे लीजेंड खिलाड़ी हैं। 

'बेटवे इंसाइडर' के लिए लिखे अपने लेख में पीटरसन ने कहा, 'मैं विराट कोहली को जिस तरह से जानता हूं, मुझे पता है कि वह अपने हीरोज के नक्शेकदम पर चलने के लिए कितनी प्रेरणा देते हैं। उनके हीरोज सचिन तेंदुलकर, राहुल द्रविड़ जैसे टेस्ट क्रिकेट के लीजेंड खिलाड़ी हैं। आप यह उनके उत्साह, इंटेनसिटी और जिस तरह से वह अपने हथियारों का इस्तेमाल करते हैं उससे देख सकते हैं। टेस्ट क्रिकेट अब भी उनके लिए सबकुछ है। कोहली जानते हैं कि महान बनने के लिए उनको इस फॉर्मेट और टी-20 दोनों में ही रन बनाने होंगे। इसी वजह से वह इस फॉर्मेट को इतना महत्व देते हैं और ऐसे समय में जब टेस्ट क्रिकेट को ज्यादा से ज्यादा प्यार की जरूरत है। कितना शानदार है यह देखना कि एक ग्लोबल स्टार इसके लिए इतना पैशनेट है।'

विराट कोहली ने बतौर कप्तान लॉर्ड्स के ऐतिहासिक मैदान पर इंग्लैंड को पहली बार धूल चटाई। यह लॉर्ड्स में टीम इंडिया की महज तीसरी ही जीत भी रही। मोहम्मद सिराज की धारदार गेंदबाजी में मोहम्मद शमी-बुमराह के बल्ले से मचाए धमाल की बदौलत भारत ने दूसरे टेस्ट में इंग्लिश टीम को 151 रनों से रौंदा था। इससे पहले पांच मैचों की टेस्ट सीरीज का पहला मुकाबला बारिश के चलते ड्रॉ रहा था। भारत और इंग्लैंड के बीच सीरीज का तीसरा टेस्ट मैच 25 अगस्त से हेडिंग्ले लीड्स में खेला जाएगा।