IND vs ENG: भारत के नाम जुड़ गया शर्मनाक रिकॉर्ड

अनुभवी तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन की अगुवाई में तेज गेंदबाजों के शानदार प्रदर्शन के दम पर इंग्लैंड ने स्टार खिलाड़ियों से सजी भारतीय टीम को हैडिंग्ले में मात्र 78 रनों पर ऑलआउट कर दिया। इतने कम रनों पर सिमटने के बाद टीम इंडिया को एक बार फिर अपने गेंदबाजों से उम्मीद थी कि वे इस मैच में वापसी कराएंगे, लेकिन ऐसा कुछ नहीं हुआ। इंग्लैंड की तरफ से पहली बार ओपनिंग जोड़ी के तौर पर उतरे रोरी बर्न्स और हसीब हमीद ने शानदार बल्लेबाजी करते हुए पहले दिन भारतीय गेंदबाजों को एक विकेट भी नहीं लेने दिया। इन दौरान दोनों बल्लेबाजों ने अपनी-अपनी फिफ्टी भी पूरी कर ली है। इस मैच में जैसे ही इंग्लैंड की पारी का 42वां ओवर खत्म हुआ, वैसे ही भारत के नाम एक शर्मनाक रिकॉर्ड दर्ज हो गया है।

बता दें कि पहली पारी में 78 रन पर ऑलआउट होने के बाद भारतीय गेंदबाज पूरे दिन में इंग्लैंड का एक विकेट भी नहीं निकाल सके। ऐसा टेस्ट क्रिकेट में मात्र तीसरी बार हुआ है, जब किसी टीम ने विपक्षी टीम को मैच के पहले दिन ऑलआउट कर दिया हो और बाद में पूरे दिन बिना किसी नुकसान के बल्लेबाजी करते हुए पहले पारी में बढ़त हासिल की। इससे पहले ऐसा ही कुछ 11 साल पहले हुआ था। उस समय इंग्लैंड ने ही ऑस्ट्रेलिया को मेलबर्न में 98 रनों पर ऑलआउट किया और बाद में दिन का खेल खत्म होने तक बिना किसी नुकसान के 157 रन बनाए। ऐसा सबसे पहले 21 साल पहले हुआ था, जब कीवी टीम ने मैच के पहले ही दिन पाकिस्तान को 104 रनों पर ऑलआउट करने के बाद बिना विकेट गंवाए 160 रन बनाए थे।

बता दें कि लॉर्ड्स में शानदार जीत के बाद भारत का पिछले 34 साल में पहले दिन की पिच पर यह लॉएस्ट स्कोर है। भारतीय टीम पिछली बार पहले दिन की पिच पर 100 रन से कम के स्कोर पर 1987 में आउट हुई थी, जब नई दिल्ली के फिरोजशाह कोटला मैदान पर वेस्टइंडीज ने दिलीप वेंगसरकर की अगुआई वाली भारतीय टीम को सिर्फ 75 रन पर ढेर कर दिया था। हैडिंग्ले में भारत की ओर से सिर्फ सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा और उप-कप्तान अजिंक्य रहाणे ही दोहरे अंक तक पहुंचने में सफल रहे। टीम की ओर से इसके बाद सबसे बड़ा योगदान 16 रन के साथ एकस्ट्रा रनों का रहा।