IND vs ENG: रोहित शर्मा ने की राहुल की तारीफ



टीम इंडिया के सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा और केएल राहुल ने मिलकर भारत को लॉर्ड्स टेस्ट के पहले दिन मजबूत स्थिति में पहुंचा दिया। दिन का खेल खत्म होने तक भारत ने तीन विकेट पर 273 रन बना लिए हैं। राहुल अभी भी 127 रन बनाकर नॉटआउट हैं, जबकि रोहित शर्मा ने 83 रनों की पारी खेली थी। रोहित और राहुल ने मिलकर पहले विकेट के लिए 126 रन जोड़े। पहले दिन का खेल खत्म होने के बाद रोहित ने राहुल की पारी की जमकर तारीफ की। उन्होंने कहा कि अभी तक उन्होंने राहुल को जितना खेलते हुए देखा उनमें से यह उनकी बेस्ट पारी थी।

रोहित ने कहा, 'मैंने केएल को जब भी बल्लेबाजी करते हुए देखा है, उसमें शायद यह बेस्ट पारी थी और वह पहली गेंद से आज दिन के अंत तक पूरी तरह से पारी पर कंट्रोल बनाए हुए था।' इस सीनियर खिलाड़ी ने कहा, 'किसी भी जगह ऐसा नहीं लगा कि वह कन्फ्यूज था या कुछ ज्यादा सोच रहा था। वह अपने प्लान के बारे में काफी क्लियर दिख रहा था और जब आप अपने प्लान पर भरोसा करते हो तो यह निश्चित रूप से कारगर होता है। मुझे लगता है कि आज उसका दिन था और उसने सही में इसका पूरा फायदा उठाया।'

रोहित की खुद की पारी ने नींव रखी और वह इस बात से भी खुश थे कि वह और राहुल दोनों नई गेंद का सामना करते हुए कंट्रोल बनाए रहे जिससे जोखिम भरे शॉट कम रहे। रोहित ने कहा, 'टेस्ट क्रिकेट की यही चुनौती है। आप भले ही बहुत सारे शॉट खेलते हो लेकिन जब आप जानते हो कि परिस्थितियां आपके खिलाफ हैं तो आपको खुद पर संयम बनाते हुए उन शॉट को कम खेलना होता है जो गैर जरूरी हो खासकर नई गेंद से।'

'क्रीज पर टिकने के बाद आप अपने शॉट्स खेल सकते हो'

उन्होंने कहा, 'एक बार आप जब खेलने लगते हो और आपको पिच और स्थितियों का अंदाजा हो जाता है  तो आप इनमें से कुछ शॉट को खेलने की कोशिश कर सकते हो। हम यहां की परिस्थितियों का सम्मान करते हुए खेले लेकिन यह भी जरूरी है कि हम अपने प्लान के हिसाब से खेलें। हमने बल्लेबाजी ग्रुप के तौर पर इसमें काफी अच्छा किया है, ऑस्ट्रेलिया दौरे से लेकर आज तक।'

'पहले टेस्ट में मयंक के साथ करना था पारी का आगाज'

उन्हें लगता है कि अब बल्लेबाज अपनी भूमिका को बेहतर तरीके से जानते हैं। उन्होंने कहा, 'हमारे बल्लेबाज अब अपनी भूमिका को जानते हैं जो सबसे अहम चीज होती है और मुझे लगता है कि वे अपनी भूमिकाओं के हिसाब से खेल रहे हैं।' यह पूछने पर कि उनके और केएल के बीच क्या चर्चा हुई क्योंकि वे पहली बार इंग्लैंड में पारी का आगाज कर रहे थे तो उन्होंने कहा, 'ईमानदारी से कहूं तो कोई चर्चा नहीं हुई थी क्योंकि केएल को पहला मैच नहीं खेलना था, मयंक (अग्रवाल) को उस मैच में खेलना था।' रोहित ने कहा, 'दुर्भाग्य से उसके (मयंक) के सिर में चोट लग गयी और 'कनकशन' के कारण वह नहीं खेले जिसके बाद केएल आए। जब हम बल्लेबाजी के लिए उतरे तो हम चर्चा कर रहे थे कि हमें क्या करने की जरूरत है। इसी तरह की चीजें। हां, टेस्ट क्रिकेट में मैं पहली बार केएल के साथ खेला हूं लेकिन मैं उसके साथ कई बार बल्लेबाजी कर चुका हूं।'