ENG vs IND: माइकल वॉन ने बताया, तीसरे टेस्ट में कैसे जीत सकती है टीम इंडिया

भारतीय क्रिकेट टीम इंग्लैंड के खिलाफ जारी लीड्स टेस्ट की पहली पारी में केवल 78 रनों पर ढेर हो गई थी। हालांकि टीम ने दूसरी पारी में शानदार वापसी की। तीसरे दिन का खेल खत्म होने तक भारत ने दो विकेट पर 215 रन बना लिए हैं और वह अभी इंग्लैंड के स्कोर से 139 रन पीछे हैं। टीम इंडिया के लिए अच्छी बात ये है कि खराब फॉर्म में चल रहे चेतेश्वर पुजारा 91 और कप्तान विराट कोहली अब तक 45 रन बनाकर नाबाद हैं। दूसरी पारी में भारतीय टीम को अच्छी पॉजिशन में देखने के बाद फैन्स टीम इंडिया से अब जीत की उम्मीद लगाने लगे हैं। कुछ क्रिकेटरों का मानना है कि भारतीय टीम 2001 के कोलकाता टेस्ट जैसे प्रदर्शन को यहां भी दोहरा सकती है। इस बीच, इंग्लैंड के पूर्व क्रिकेटर माइकल वॉन ने भी तीसरे टेस्ट में भारत की जीत की संभावना पर अपनी राय रखी है।

माइकल वॉन का मानना ​​है कि टीम इंडिया के पास अभी भी तीसरे टेस्ट को जीतने का मौका है। उन्होंने हालांकि साथ ही कहा कि मेहमान टीम अभी गेम से मीलों पीछे हैं। माइकल वॉन का मानना है कि हैंडिंग्ले में 'विशेष और अजीब चीजें" हो सकती हैं। पूर्व कप्तान ने साथ ही भारतीय बल्लेबाजों को सलाह दी कि वह पहले सेशन में ध्यान से खेलें और पिच के रंग बदलने की इंतजार करें। 

माइकल वॉन ने क्रिकबज से बातचीत में कहा, ' वे अभी गेम से मीलों पीछे हैं। भारत को अपनी इसी स्थिति को आगे भी बरकरार रखना होगा। लेकिन अगर वह पहले सेशन को अच्छे से खेल लेता है और केवल एक ही विकेट गंवाता हैं, तो ईमानदार से कहूं तो इस टेस्ट मैच में कुछ भी हो सकता है क्योंकि पिच बाद में बदल भी सकता है।' 

वॉन ने 2019 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ एशेज सीरीज के दौरान इसी हैडिंग्ले मैदान पर बेन स्टोक्स द्वारा बनाए गए 135 रनों को याद किया। एशेज सीरीज के तीसरे टेस्ट में स्टोक्स की उस शानदार पारी के दम पर इंग्लैंड ने जीत दर्ज की थी। स्टोक्स हालांकि इस सीरीज में इंग्लैंड के लिए नहीं खेल रहे हैं। स्टोक्स के अलावा इयान बॉथम ने भी आज से 38 साल पहले ही इसी मैदान पर 149 रनों की पारी खेली थी। 

वॉन ने आगे कहा, 'इस मैदान पर कुछ भी हो सकता है। मुझे नहीं पता कि बेन स्टोक्स और इयान बॉथम ने इस मैदान पर क्या किया था। लेकिन इस मैदान पर कुछ खास और अजीब चीज हो सकता है। हम जानते हैं कि पहले सेशन में भारत चार विकेट गंवा सकता है। लेकिन अगर वह केवल एक ही गंवाता है तो फिर कुछ खास हो सकता है।'